मुख्यपृष्ठनए समाचारफ्लेमिंगो सिटी में दौड़ेगी डबल डेकर! ....नई मुंबईकरों का भी सुहाना होगा...

फ्लेमिंगो सिटी में दौड़ेगी डबल डेकर! ….नई मुंबईकरों का भी सुहाना होगा सफर

कुमार नागमणि / मुंबई । फ्लेमिंगो सिटी के रूप में पहचाने जानेवाले नई मुंबई शहर में स्थानीय यात्रा में बड़ा बदलाव देखने को मिलनेवाला है। मुंबई की तर्ज पर इस शहर में भी जल्द ही डबल डेकर बस दौड़नेवाली है। इससे एनएमएमटी की आय में बढ़ोतरी होगी। इस निर्णय के अनुसार एनएमएमटी ने १० इलेक्ट्रिक डबल डेकर बस खरीदने की तैयारी की है। एक बस की कीमत १ करोड़ ९० लाख रुपए बताई जा रही है। प्रायोगिक आधार पर दो डबल डेकर बस चलाई जानेवाली है। नागरिकों की मांग के अनुसार संख्या बढ़ाई जाएगी।
खरीददारी का आदेश जारी
बता दें कि मुंबई दर्शन की तर्ज पर नई मुंबई में डबल डेकर बस चलाने का निर्णय एनएमएमटी द्वारा लिया गया है। यह बस नागरिकों को नई मुंबई के पर्यटन स्थलों का भ्रमण कराएंगी। इन बसों की खरीददारी का आदेश जारी किया गया है। ये बसें पूरी तरह से वातानुकूलित होंगी। सितंबर २०२२ तक पर्यटन के लिए दो डबल डेकर बस एनएमएमटी के बेड़े में शामिल की जाएंगी। इस बस द्वारा शहर के प्रमुख आकर्षणों को कवर करने की योजना एनएमएमटी द्वारा बनाई गई है।
पर्यटन स्थलों को देखने का मिलेगा मौका
नई मुंबई महानगरपालिका द्वारा इस शहर को फ्लेमिंगो सिटी के रूप में प्रचारित किया जा रहा है, जिसके चलते इस शहर की ओर लोगों का आकर्षण बढ़ रहा है। डबल डेकर बस द्वारा इस शहर के चुने गए स्थानों को दिखाया जाएगा, जिसमें ऐरोली स्थित डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर स्मारक, ऐरोली के तटीय और समुद्री जैव-विविधता केंद्र, रेलवे स्टेशन, एमआईडीसी स्थित गवली देव हिल्स, नेरुल में वंडर पार्क, विभिन्न उद्यान, वाशी का मिनी-सीशोर, सीवुड्स में जल परिवहन, रॉक गार्डन, एनएमएमसी मुख्यालय, पाम बीच रोड आदि शामिल हैं। शहर के आकर्षणों की आसान दृश्यता के लिए बस के ऊपरी डेक में शीशे लगे होंगे।

पर्यटन स्थलों को देना है बढ़ावा
मनपा आयुक्त अभिजीत बांगर ने बताया कि नई मुंबई को एक पर्यटन स्थल के रूप में बढ़ावा देने की कोशिश की जा रही है। नागरिक यहां के सभी उत्कृष्ट बुनियादी ढांचे और आकर्षण के केंद्रों का दर्शन करना चाहते हैं। इसके लिए एनएमएमटी में १० इलेक्ट्रिक डबल डेकर बसें शामिल कर रहे हैं। यह बसें कम र्इंधन में अधिक यात्रियों को ले जाने में मददगार साबित होंगी। इस तरह कार्बन क्रेडिट अर्जित करेंगे। हमें उम्मीद है कि सितंबर से बसों का मिलना शुरू हो जाएगा।

अन्य समाचार