मुख्यपृष्ठनए समाचार‘ईडी’ सरकार गिरेगी! जयंत पाटील की भविष्यवाणी

‘ईडी’ सरकार गिरेगी! जयंत पाटील की भविष्यवाणी

  • लेन-देन से बनी सरकार को नहीं है जनता की परवाह

सामना संवाददाता / मुंबई
राज्य में मध्यावधि चुनाव कब होंगे, यह हम नहीं कह सकते लेकिन राज्य की शिंदे-फडणवीस यानी ‘ईडी’ सरकार आज नहीं तो कल जरूर गिरेगी, यह भविष्यवाणी राकांपा प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटील ने बुलढाणा में आयोजित एक सभा में की। विधान सभा के मध्यावधि चुनाव का रंग दिखाई दे रहा है, ऐसा भी उन्होंने कहा। जयंत पाटील ने एक बार पुन: राज्य के विभिन्न निर्वाचन क्षेत्रों का दौरा शुरू किया है।
बुलढाणा जिले के दौरे के दौरान मलकापुर में मराठा मंगल कार्यालय में संपन्न हुई समीक्षा बैठक के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए उन्होंने उक्त बातें कहीं। राज्य की राजनीतिक परिस्थितियों पर अपनी बेबाक राय रखते हुए उन्होंने ‘ईडी’ सरकार पर जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि ‘ईडी’ सरकार का भविष्य सुप्रीम कोर्ट के निर्णय पर टिका है। सुप्रीम कोर्ट से इस पर निर्णय आने में कितना समय लगेगा, यह कहना मुश्किल है। अगर देश में न्याय व्यवस्था बची है तो संविधान की दसवीं सूची में उल्लिखित प्रावधान के अनुसार बागी विधायकों को अयोग्य घोषित करना ही चाहिए। ऐसी अपेक्षा उन्होंने व्यक्त की। लोकतंत्र को बचाने के लिए पक्षांतर बंदी कानून पर अमल होना नितांत आवश्यक है। तभी जाकर बगावत करनेवालों को सबक मिलेगा, ऐसा पाटील ने कहा।
इस देश में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी द्वारा किए गए कार्यों के अलावा मोदी सरकार का कोई भी काम निचले स्तर तक नहीं पहुंचा है। गडकरी के पीछे अब कोई तो लगा है, ऐसा कहते हुए पाटील ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह पर अप्रत्यक्ष रूप से निशाना साधा। कुछ दिनों पहले केंद्रीय चुनाव समिति और भाजपा संसदीय मंडल से नितीन गडकरी को हटा दिया गया था। उसके बाद गडकरी का पर कतरने की चर्चा राजनीतिक गलियारे में जोरों पर थी। पेट्रोल, डीजल, गैस में बढ़ोतरी आदि को लेकर मोदी सरकार पर जमकर पाटील ने हमला बोला। जनता द्वारा चुनी हुई सरकार को भाजपा ने गिराकर मतदाताओं और देश के संविधान का अपमान किया है।
राज्य की शिंदे-फडणवीस सरकार पर निशाना साधते हुए पाटील ने कहा कि लेन-देन से इस सरकार का निर्माण हुआ है। इस लेन-देन का आंकड़ा ५० खोका तक पहुंच गया है। महाराष्ट्र की जनता को यह अच्छा नहीं लगा। आगामी चुनाव में भाजपा को इसका खामियाजा भुगतना पड़ेगा, ऐसा पाटील ने कहा।

 

अन्य समाचार