मुख्यपृष्ठनए समाचारअखिलेश के करीब जाते ही शिवपाल को ईडी की नोटिस

अखिलेश के करीब जाते ही शिवपाल को ईडी की नोटिस

सामना संवाददाता / नई दिल्ली
लगता है शिवपाल यादव का पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के करीब आना बीजेपी को कुछ रास नहीं आ रहा। जब से शिवपाल यादव ने अखिलेश यादव के साथ हाथ मिलाया है, तभी से उन पर एक के बाद एक मुसीबतें आ रही हैं। पहले उनसे जेड की सुरक्षा छीनी गई और अब ईडी की तलवार उन पर लटक रही है।
गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के रिवर प्रâंट घोटाले में जांच ने दोबारा तेजी पकड़ ली है। इस मामले में एक बार फिर शिवपाल यादव और इससे जुड़े तमाम लोगों की मुश्किलें बढ़ सकती हैं, वहीं सूत्रों के हवाले से खबर है कि शिवपाल यादव को भी ईडी ने नोटिस जारी कर दी है। हालांकि इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई है कि यह नोटिस किस मामले में दी गई है। लेकिन ईडी के इस एक्शन की टाइमिंग पर सवाल जरूर खड़े हो रहे हैं। क्योंकि मैनपुरी उपचुनाव के दौरान शिवपाल के अखिलेश खेमे में जाने के बाद बीजेपी ने इसे बड़ा मुद्दा बनाया था। दरअसल शिवपाल यादव को लेकर सॉफ्ट रही बीजेपी और योगी सरकार उनके अखिलेश यादव से करीबी बढ़ते ही सख्त हो गई है।
अखिलेश की वजह से शिवपाल को लगा झटका
मैनपुरी उपचुनाव में शिवपाल यादव और अखिलेश यादव के बीच तल्खी बीजेपी के लिए फायदेमंद हो सकती थी। लेकिन अंतिम समय में मुलायम कुनबा एक हो गया। शिवपाल ने खुले मंच से यह कहा कि बहू (डिंपल यादव) ने फोन पर उन्हें मनाया। बहू के मनाने पर वह वापस आए हैं। मैनपुरी में प्रचार के दौरान भी अखिलेश और शिवपाल एक साथ मंच पर दिखाई दिए। ऐसा माना जा रहा है कि अखिलेश के साथ नजदीकी की वजह से ही शिवपाल को झटका दिया जा रहा है।

अन्य समाचार