मुख्यपृष्ठनए समाचारप्लेटफॉर्म पर चढ़ी ईएमयू ट्रेन, लोको पायलट सहित 5 रेलवेकर्मी निलंबित

प्लेटफॉर्म पर चढ़ी ईएमयू ट्रेन, लोको पायलट सहित 5 रेलवेकर्मी निलंबित

-जांच के लिए रेल प्रशासन ने बनाई चार सदस्यीय कमेटी

कमलकांत उपमन्यु / मथुरा

देर रात्रि ईएमयू ट्रेन मथुरा जंक्शन के प्लेटफॉर्म दो पर चढ़ने के मामले में चार सदस्यीय अधिकारियों की उच्च स्तरीय कमेटी बनाते हुए पांच कर्मचारियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।
दिल्ली शकूर बस्ती स्टेशन से उत्तर रेलवे की ईएमयू ट्रेन संख्या 64910 प्रतिदिन चलती है। इस ट्रेन मेें बड़ी संख्या में दैनिक यात्री सफर करते हैं। मंगलवार को ट्रेन निर्धारित समय शाम 6 बजकर 20 मिनट पर शकूर बस्ती से चलकर रात्रि 10 बजकर 49 मिनट पर मथुरा जंक्शन स्टेशन पहुंची। यहां ट्रेन प्लेटफॉर्म नंबर 2 पर लगी थी। प्लेटफॉर्म पर ट्रेन चढ़ते देख मौके पर अफरा-तफरी मच गई। यात्री जान बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे। इसकी वजह से यात्रियों के कुछ बैग ट्रेन के नीचे आ गए, लेकिन ट्रेन जब लाइट के पोल से टकरा कर रुक गई तो लोगों ने राहत की सांस ली। हादसे के बाद उत्तर मध्य रेलवे के आगरा मंडल से तकनीकी टीम मथुरा पहुंची। इसके साथ ही ट्रेन को प्लेटफॉर्म से हटाने की कार्रवाई शुरू की गई। देर रात तक चली प्रक्रिया के बाद ट्रेन को प्लेटफॉर्म से हटाकर वापस रेल ट्रैक पर लाया गया।
मथुरा स्टेशन के निदेशक एसके श्रीवास्तव ने बताया कि सभी यात्री पहले ही ट्रेन से उतर चुके थे। हादसे में किसी को भी चोट नहीं आई। घटना का कारण पता करने को टीम गठित कर दी गई है। उन्होंने ट्रेन शकूर बस्ती से आती है। ट्रेन रात 10:49 बजे मथुरा जंक्शन पहुंची थी। ट्रेन की स्पीड निर्धारित स्पीड से ज्यादा बढ़ गई, जिसकी वजह से ड्राइवर कंट्रोल नहीं कर सका और ट्रेन प्लेटफॉर्म पर चढ़ गई। हम इस घटना के कारण की जांच कर रहे हैं। हालांकि, इस हादसे के कारण प्लेटफार्म पर निर्धारित कुछ ट्रेनें प्रभावित हुई हैं। प्लेटफार्म का करीब 30 मीटर का हिस्सा क्षतिग्रस्त हुआ है।
उत्तर मध्य रेलवे के जनसंपर्क अधिकारी कु. प्रशिस्त श्रीवास्तव ने बताया कि इस घटना में लोको पायलट गोविंद हरी शर्मा, हैल्पर इलैक्ट्रिक सचिन, टैक्नीशियन कुलजीत, बृजेश और हरवन कुमार को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है, वहीं पूरे प्रकरण की जांच के लिए सीनियर डीईई ओपी योगेश कुमार, सीनियर डीएसओ रघुनाथ सिंह, सीनियर डीईई विवेक गुप्ता एवं सीनियर डीईई प्रवीण कुमार की कमेटी बनाई गई है, जो जांच कर अपनी रिपोर्ट देगी। प्लेटफॉर्म पर चढ़ा इंजन यात्रियों के लिए सेल्फी और कौतूहल का विषय बन गया। दिल्ली साइड के ऐडिंग पाइंट पर ट्रेन के चढ़ने की जानकारी मिलते ही स्टेशन पर हड़कंप मच गया। आरपीएफ और जीआरपी के अलावा रेलवे के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए। तकनीकी टीम ने आकर मोर्चा संभाला।

अन्य समाचार