मुख्यपृष्ठनए समाचारलखीमपुर खीरी में धमाके के साथ पूरा मकान ध्वस्त, मां-बेटे सहित दो...

लखीमपुर खीरी में धमाके के साथ पूरा मकान ध्वस्त, मां-बेटे सहित दो मवेशी भी मरे, मामला संदिग्ध!

मनोज श्रीवास्तव / लखनऊ
लखीमपुर खीरी के जंगबहादुरगंज कस्बे में शुक्रवार सुबह बड़ा हादसा हो गया। यहां एक मकान में तेज धमाका हो गया, जिससे पूरा मकान धराशाई हो गया। हादसे में परिवार के दो सदस्यों की मौत हो गई है। मरने वाले मां-बेटे बताए गए हैं। जानकारी मिल रही है कि कई लोग घायल हुए हैं। जोरदार धमाके से घर के आस-पास बंधे मवेशी भी चपेट में आ गए, जिससे दो मवेशी भी मर गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया है।
स्थानीय पुलिस के अनुसार, जंगबहादुरगंज में बब्बू का मकान है। उसके मकान में शाहजहांपुर के गांव दबौरा निवासी मोहम्मद नबी (४०) अपनी पत्नी हलीमा (३०) और पुत्र जीशान (१४) के साथ किराए पर रहता था। चश्मदीदों ने बताया कि शुक्रवार की सुबह करीब छह बजे अचानक तेज धमाका हो गया, जिससे पूरा मकान जमींदोज हो गया। धमाका इतनी तेज था कि पड़ोसी के मकान का लिंटर भी गिर गया।
मकान ढहने से दोनों परिवार के कई लोग मलबे में दब गए। आस-पास के लोगों ने पुलिस को सूचना देने के साथ बचाव कार्य शुरू किया। मौके पर पहुंची पुलिस ने लोगों की मदद से मलबे में दबे लोगों को बाहर निकाला। सभी को तुरंत अस्पताल भेजा गया, जहां चिकित्सकों ने हलीमा और उसके पुत्र जीशान को मृत घोषित कर दिया। मोहम्मद नवी, मकान मालिक बब्बू, उसकी पत्नी पीर बानो, पुत्री अलीना और मोहम्मद शमद घायल हैं। इनकी हालत गंभीर बताई गई है। परिवारवालों का कहना है कि गैस सिलिंडर लीकेज होने से हादसा हुआ है, जबकि ग्रामीण इसे संदिग्ध मान रहे हैं। मौके पर बरामद एक सिलेंडर सही-सलामत मिला है। आस-पास के लोगों का कहना है कि मकान में पटाखा बनाने का कार्य होता है। हालांकि, पुलिस ने इससे इनकार किया है। पुलिस घटना की जांच में जुटी है। एक तरफ स्थानीय पुलिस पटाखा बनाने की बात से इनकार कर रही है, दूसरी तरफ गैस सिलेंडर सही-सलामत मिला है, तो विस्फोट का कारण क्या है, यह यक्ष प्रश्न बन गया है।

अन्य समाचार