मुख्यपृष्ठनए समाचारमुंबई में एंट्री महंगी ... वाहनचालकों की कटेगी जेब

मुंबई में एंट्री महंगी … वाहनचालकों की कटेगी जेब

आज से टोल टैक्स बढ़ा
सामना संवाददाता / मुंबई
महानगर मुंबई में सड़क मार्ग से आवागमन के लिए अब लोगों की जेब ज्यादा कटेगी। मुंबई के एंट्री पॉइंट अर्थात टोल नाकों पर टोल दर में वृद्धि की गई है। यह नई दर आज से लागू हो गई है। इसी के साथ मुंबई में एंट्री महंगी हो जाएगी। मुंबई में आने व जाने वाले चार पहिया निजी वाहनों, टैक्सी, टैंपो और भारी वाहन चालकों की जेब पर टोल दर की वृद्धि का भार पड़ेगा।
बता दें कि मुंबई शहर में प्रवेश करने के लिए वाशी, मुलुंड-ईस्ट एक्सप्रेस-वे, मुलुंड एलबीएस मार्ग, ऐरोली और दहिसर ये पांच टोल नाके हैं। इन टोल बूथ से प्रतिदिन हजारों वाहन गुजरते हैं। अब इन वाहनों के लिए टोल दर बढ़ाई गई है। इसे रविवार १ अक्टूबर से लागू किया जाएगा। मुंबई के प्रवेश द्वार पर २००२ से टोल वसूली शुरू किया गया है और यह २५ वर्षों तक जारी रहेगा। मतलब २०२७ तक वाहन चालकों को टोल (मुंबई टोल) देना होगा।
वर्ष २००२ में कारों के लिए टोल २० रुपए, मिनी बसों के लिए २५ रुपए, ट्रकों और बसों के लिए ४५ रुपए और भारी वाहनों के लिए ५५ रुपए था। और बाद कई बार टोल दर में वृद्धि की गई। इस बीच एक अक्टूबर २०२० से टोल टैक्स में वृद्धि की गई, टोल दर बढ़ाकर चार पहिया वाहन के लिए ४० रुपए, मिनी बस के लिए ६५ रुपए, ट्रक के लिए १३० रुपए और भारी वाहन के लिए १६० रुपए किया गया था। अब सातवीं दर बढ़ोतरी लागू की गई है। इसलिए २०२६ तक चार पहिया वाहनों के लिए टोल ४५ रुपए, मिनी बसों के लिए ७५ रुपए, ट्रकों के लिए १५० रुपए और भारी वाहनों के लिए १९० रुपए होगा।

 

अन्य समाचार