मुख्यपृष्ठटॉप समाचारविचारों का शुद्ध सोना शिवसेना की ऐतिहासिक और असली दशहरा रैली :...

विचारों का शुद्ध सोना शिवसेना की ऐतिहासिक और असली दशहरा रैली : सबका हिसाब होगा!, चुन-चुनकर होगा!!

• उद्धव ठाकरे क्या बोलेंगे… पूरे हिंदुस्थान की नजरें
• शिवतीर्थ पर ‘निष्ठा’ का अतिविराट होगा दर्शन, भीड़ के सारे रिकॉर्ड टूटेंगे
सामना संवाददाता / मुंबई
एक नेता, एक झंडा और एक मैदान ऐसी वैभवशाली परंपरावाली शिवसेना की ऐतिहासिक दशहरा रैली आज शिवतीर्थ पर हो रही है। अपनी आंखों से इस महारैली का साक्षी बनने के लिए लाखों शिवसैनिक बड़े उत्साह के साथ मुंबई की तरफ प्रस्थान कर चुके हैं। महारैली के मौके पर शिवतीर्थ पर निष्ठा के दहकते अंगार का अनुभव मिलेगा और यहां उपस्थित होनेवाली शिवसैनिकों की भीड़ सारे रिकॉर्ड तोड़ देगी। शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे अपने भाषण से ‘मिंधे’ गुट के गद्दारों व दगाबाज भाजपा की वैâसे धज्जियां उड़ाएंगे और एकनिष्ठ शिवसैनिक सहित तमाम मराठी बंधुओं और हिंदुओं को कौन-सा विचार देंगे, इस पर पूरे हिंदुस्थान का ध्यान लगा है।

शिवसेना, हिंदुत्व और हिंदूहृदयसम्राट शिवसेनाप्रमुख बालासाहेब ठाकरे के विचारों की वारिस है। गद्दारों को शिवसेना ने कभी भी जगह नहीं दी है इसलिए इस बार भी दशहरे में ४० गद्दार और अन्य मौका परस्तों को गाड़ने का निर्णय किया जाएगा। निष्ठा के वङ्कामूठ से उन्हें दफन किया जाएगा। हिसाब सबका होगा… चुन-चुन के हिसाब होगा!! मुंबई में असली शिवसेना का तूफान अटल है।
‘मिंधे’ गुट ने दशहरा रैली में विघ्न डालने का प्रयत्न किया। शिवतीर्थ पाने के लिए मुंबई महानगर पालिका प्रशासन पर दबाव डाला गया। लेकिन मुंबई उच्च न्यायालय के आदेश के बाद शिवसेना की परंपरा पर मुहर लगी और शिवसेना की दशहरा रैली का विघ्न दूर हुआ। अब समय है निष्ठा के विराट रूप को अनुभव करने का। शिवतीर्थ दशहरा रैली सज गई है। इस रैली से पहले हुए राजनीतिक उठापटक को देखते हुए इस बार की महारैली ‘न भूतो न भविष्यति’ होगी, ऐसा स्पष्ट है। आज शाम ६:३० बजे रैली शुरू होगी। इसमें शामिल होने के लिए राज्य के कोने-कोने और अन्य राज्यों से भी एकनिष्ठ शिवसैनिकों का जत्था शिवतीर्थ पर दाखिल होने लगा है।
गद्दारों को सबक सिखाएंगे
शिवसेना के ४० विधायकों ने गद्दारी की है। यह मौकापरस्त सत्तापिपासु भाजपा में जाकर मिले हैं और राज्य में नियम से बाहर जाकर ‘खोका’ सरकार बनाई है। इन गद्दारों का हिसाब चुकता करने का समय आ गया है। इसलिए शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे दशहरा रैली में क्या बोलनेवाले हैं, इस पर पूरे देश का ध्यान लगा हुआ है। गद्दारों के खिलाफ शिवसैनिकों में बड़ी नाराजगी और संताप है। यह देखते हुए आज महारैली में जो निष्ठा का अंगार दिखनेवाला है, वह गद्दारों की धड़कनें तेज कर देगा।
शिवसैनिक होकर दिखाओ
इस बार दशहरा रैली में विख्यात गायक आनंद शिंदे ने शिवसेना की प्रताड़ना करनेवाले गद्दारों पर हल्ला बोल करनेवाला विशेष गाना गाया है। ‘बालासाहेब ठाकरे के नाम से हटकर तुम शिवसैनिक होकर दिखाओ…’ ऐसा यह गीत खुद आनंद शिंदे ने लिखा और गाया है। आज इस मौके पर इस गीत को रिलीज किया जाएगा।
‘शस्त्रपूजा’, ‘सोना वितरण’ और ‘रावण दहन’
शिवतीर्थ पर शिवसेना दशहरा रैली में शस्त्र पूजन, सोना वितरण और रावण दहन किया जाएगा। दशहरा के दिन शस्त्रपूजा की विधिवत पूजा करने की प्रथा प्राचीन काल से है। यही परंपरा शिवसेना ने भी कायम रखी है। इसी प्रकार सोना पत्ती भी वितरित की जाएगी और दुष्ट विचारों के प्रतीक १० मुंह वाले रावण का दहन भी किया जाएगा।

अन्य समाचार