मुख्यपृष्ठनए समाचारचप्पे-चप्पे पर चार्जिंग स्टेशन! राज्य सरकार की इलेक्ट्रिक वाहन नीति को गति

चप्पे-चप्पे पर चार्जिंग स्टेशन! राज्य सरकार की इलेक्ट्रिक वाहन नीति को गति

सुजीत गुप्ता / मुंबई
इलेक्ट्रिक वाहन खरीदने की योजना बना रहे लोगों के लिए खुशखबर है। इलेक्ट्रिक वाहनचालकों की चार्जिंग से संबंधित परेशानी दूर करने की तैयारी महाराष्ट्र सरकार ने शुरू कर दी है। मुंबई समेत राज्य के हर हाइवे पर कुछ किमी की दूरी पर इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन बनाने की योजना राज्य सरकार ने तैयार की है। मतलब चप्पे-चप्पे पर चार्जिंग स्टेशन होंगे।

टारगेट २०२५
२०२५ तक २,३७५ नए इलेक्ट्रिक चार्जिंग स्टेशन तैयार करने का निर्णय लिया गया है। मुंबई में १,५००, पुणे में ५००, नागपुर में १५०, नासिक में १००, संभाजीनगर में ७५, अमरावती में ३० और सोलापुर में २० चार्जिंग स्टेशन बनेंगे।

एमएसईडीसीएल देगी बिजली
राज्य के करोड़ों घरों को रोशन करने के साथ ही सड़कों पर दौड़नेवाले वाहनों को एनर्जी उपलब्ध करवाने का जिम्मा महाराष्ट्र स्टेट इलेक्ट्रिसिटी डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड (एमएसईडीसीएल) ने उठाया है। आगामी तीन साल में एमएसईडीसीएल राज्य के हर कोने में २,३७५ चार्जिंग स्टेशन बनाने की योजान बनाई है। इलेक्ट्रिक वाहनों के बढ़ते चलन को देखते हुए कंपनी अब तक १३ इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन तैयार कर चुकी है। ४९ स्टेशन का निर्माण कार्य जारी है।

यहां होंगे स्टेशन
बस स्टॉप, रेलवे स्टेशन, पेट्रोल पंप, शॉपिंग मॉल समेत अन्य स्थानों पर चार्जिंग तैयार किए जाएंगे। अगर कोई व्यक्ति या संस्था अपनी निजी जमीन पर चार्जिंग स्टेशन तैयार करने के लिए आवेदन करता है तो उसे एमएसईडीसीएल द्वारा प्रमुखता से बिजली की आपूर्ति की जाएगी।

अन्य समाचार