मुख्यपृष्ठनए समाचारआंतक पर भारी पड़ी आस्था ....अमरनाथ यात्रा पर १५ लाख भक्त आने...

आंतक पर भारी पड़ी आस्था ….अमरनाथ यात्रा पर १५ लाख भक्त आने की उम्मीद

सामना संवाददाता / जम्मू । श्री अमरनाथ की वार्षिक तीर्थयात्रा को लेकर देशभर के श्रद्धालुओं में बने उत्साह और सरकार की ओर से की जा रही व्यापक तैयारियों से हताश आतंकियों ने तीर्थयात्रा पर हमले की गीदड़ भभकी दी है। यह धमकी कश्मीर में आतंक का नया पर्याय बने लश्कर-ए-तोयबा का हिट स्क्वॉड कहे जाने वाले आतंकी संगठन टीआरएफ ने दी है। टीआरएफ का धमकी भरा पोस्ट इंटरनेट मीडिया पर भी वायरल हुआ है, जिसमें श्रद्धालुओं को यात्रा से दूर रहने और खून-खराबे की चेतावनी दी गई है। शिवसेना जम्मू इकाईप्रमुख मनीष साहनी ने चेतावनी देते हुए कहा कि आतंकी संगठन ने यह पोस्टर जारी कर एक बार फिर इस्लामिक कट्टरवाद का चेहरा दिखा दिया है। आतंकियों को कश्मीर में बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं के आने पर आपत्ति है। यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि कश्मीर के हजारों मुस्लिम घोड़े, पिट्ठू और टेंट वालों समेत अन्य लोगों की रोजी-रोटी इसी यात्रा से जुड़ी रहती है और उन्हें सारा साल यात्रा शुरू होने का बेसब्री से इंतजार रहता है।

शिवसेना जम्मू इकाई ने फूंका पाक का झंडा
अमरनाथ यात्रा को लेकर पाकिस्तानी पोषित आतंकवादी संगठन टीआरएफ द्वारा गीदड़ भभकी देने के बाद शिवसेना जम्मू इकाईप्रमुख मनीष साहनी ने शिवसैनिकों के साथ विरोध-प्रदर्शन करते हुए पाकिस्तान का झंडा जलाया। साहनी ने कहा कि अमरनाथ यात्रा पर विघ्न डालने के‌ इरादे से पाकिस्तान एवं कठपुतली आतंकवादी संगठन अपने नापाक मकसद में कतई कामयाब नहीं हो सकते। आतंकवाद पर आस्था हमेशा भारी साबित हुई है। अमरनाथ यात्रा को जब भी धमकाने एवं प्रभावित करने की कोशिशें हुर्इं, तभी भोलेनाथ के भक्त उतनी अधिक संख्या में यात्रा में शामिल हुए हैं। साहनी ने कहा कि शिव भक्तों की आस्था को ललकारने की कोशिश न करें। जम्मू के साथ कश्मीर की आम जनता भी अमरनाथ यात्रा पर आने वाले श्रद्धालुओं का स्वागत करने के लिए बाहें पसारे खड़ी है। जम्मू-कश्मीर में तैनात सुरक्षाबल, स्थानीय नागरिक व शिवसैनिकों के रहते किसी भी आतंकवादी ताकत की जुर्रत नहीं है कि अमरनाथ यात्रा पर आंखें टेढ़ी कर सके। साहनी ने पीएम मोदी से आंतकवाद का पोषण करने वाले पाक से तत्काल राजनीतिक, कूटनीतिक व व्यापारिक संबंधों पर पूर्ण विराम लगाने की मांग की।

अन्य समाचार