मुख्यपृष्ठनए समाचारयोगीराज में बेखौफ भूमाफिया : गोरक्षपीठ मठ की जमीन पर बड़ा फर्जीवाड़ा

योगीराज में बेखौफ भूमाफिया : गोरक्षपीठ मठ की जमीन पर बड़ा फर्जीवाड़ा

सामना संवाददाता / आगरा
भले ही भाजपा की सरकारें हमेशा यह दंभ भरती हों कि उनके शासन काल में अपराध और भ्रष्टाचार कम हुए हैं, राष्ट्रीय स्तर के आंकड़े कुछ और ही हकीकत बयां करते हैं, लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और ही होती है। अब यूपी के योगीराज में ही देख लीजिए, जिस उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ राज्य में भूमाफियाओं पर एक्शन कर दावा करते हों कि उनके एक्शन से भूमाफियाओं में खौफ है। लेकिन ऐसा कुछ भी नहीं है। उल्टे योगी के राज में तो भूमाफिया बेखौफ नजर आ रहे हैं। भूमाफियाओं का यह बेखौफपना कहीं और नहीं बल्कि उस मठ की जमीन पर देखने को मिला जिस गोरक्षपीठ मठ के वे पीठाधीश्वर हैं। दरअसल, उस मठ की जमीन पर आगरा में कब्जा किया जा रहा है। मठ से जुड़ी जमीन में फर्जीवाड़ा आगरा नगर निगम में हुआ है। नगर निगम ने मठ की जमीन पर किरायेदारों को मालिक बना दिया है। मठ की जमीन पर कब्जे की ऐसी कई शिकायतें सामने आर्इं है, जिसे लेकर सीएम योगी के दूत (नियुक्त संत) कार्यालयों के चक्कर लगा रहे हैं।
बता दें कि शहर में गोरखनाथ मठ से जुड़ी कई प्रॉपर्टी हैं। इन संपत्तियों को मठ की ओर से किराए पर दिया गया था। अब मठ की जमीन पर दस्तावेजों में फर्जीवाड़ा करके कब्जा किया गया है। इसकी शिकायत मिलने पर गोरखनाथ मठ से महंत योगी मंगलनाथ को जमीन मुक्त कराने का जिम्मा दिया गया है।

अन्य समाचार