मुख्यपृष्ठअपराधबीटेक बेरोजगार का कारनामा, एयरटेल का डेटा किया डिलीट!

बीटेक बेरोजगार का कारनामा, एयरटेल का डेटा किया डिलीट!

मुंबई के युवक को दिल्ली पुलिस ने किया गिरफ्तार

सामना संवाददाता / मुंबई

एयरटेल कंपनी का सर्वर हैक कर १७ हजार कर्मचारियों का डेटा डिलीट करने के मामले में गुरुग्राम पुलिस ने मुंबई के रहनेवाले युवक को गिरफ्तार किया है। युवक बीटेक-एमबीए की पढ़ाई करने के बावजूद बेरोजगार था। फिलहाल पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर मामले की जांच शुरू कर दी है।जानकारी के अनुसार, ९ अगस्त को एयरटेल कंपनी की शिकायत पर साइबर क्राइम पुलिस ने विभिन्न धाराओं के तहत एफआईआर दर्ज की। कंपनी ने अपनी शिकायत में कहा कि पूरे देश में उसके करीब १७ हजार कर्मचारी हैं, जिनका डेटा डिजिटल फॉर्म में स्पेशलाइज्ड कंप्यूटर एप्लिकेशंस में सुरक्षित रखा जाता है। कर्मचारियों के डेटा में नाम, पर्सनल टेलिफोन नंबर, बैंक खाता डिटेल, पेन कार्ड नंबर, परिवार के सदस्यों की डिटेल आदि की जानकारी थी।
दो महीने पहले ही मिली थी सूचना
आरोप है कि किसी अज्ञात ने कंपनी के सर्वर हैक कर सारा डेटाबेस डिलीट कर दिया। एक वेंडर कंपनी की ओर से डेटा मैनेजमेंट की सुविधा मुहैया कराई गई थी, उन्होंने जून २०२३ में इस मामले की सूचना कंपनी को दी। ये भी शक जताया गया कि डिलीट करने से पहले आरोपी ने ये डेटा कॉपी कर लिया हो। साइबर क्राइम थाना वेस्ट एसएचओ इंस्पेक्टर अमित कुमार ने टीम के साथ मामले में जांच करते हुए दिल्ली ओखला के पास जौहरी फार्म में रहने वाले शफकत अली को गिरफ्तार कर लिया है।
पूर्व कर्मचारी रह चुका है युवक
पूछताछ में पता चला कि वह अपने माता-पिता के साथ दिल्ली में रहता है। गुरुग्राम के एमडीआई कॉलेज से उसने एमबीए की पढ़ाई की। फिर उसने एयरटेल के अलावा पेटीएम कंपनी में भी नौकरी की। अभी वह कहीं नौकरी नहीं कर रहा था। इंस्पेक्टर अमित ने बताया कि आरोपी से पूछताछ कर ये पता लगाया जा रहा है कि आखिर उसने सर्वर हैक कर कर्मचारियों का डेटा डिलीट किस कारण से किया। अभी उसने कोई स्पष्ट कारण नहीं बताया है।

अन्य समाचार

लालमलाल!