मुख्यपृष्ठनए समाचारमहामारी से बचने की मारामारी! वैक्सीनेशन के लिए दौड़े मुंबईकर

महामारी से बचने की मारामारी! वैक्सीनेशन के लिए दौड़े मुंबईकर

  • टीकाकरण में २४ फीसदी की हुई वृद्धि

सामना संवाददाता / मुंबई
मुंबई समेत राज्य में एक बार फिर कोरोना की संख्या में इजाफा हुआ है। ऐसे में इस महामारी से बचने के लिए लोगों में ‘मारामारी’ शुरू हो गई है। टीकाकरण के प्रति उदासीन रहनेवाले मुंबईकर एक बार फिर से वैक्सीनेशन के लिए दौड़ पड़े हैं। इसका परिणाम है कि मुंबई में मई की तुलना में जून के पहले २१ दिनों के दौरान टीकाकरण में २४ प्रतिशत का इजाफा हुआ है।
बता दें कि मनपा स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक कोरोना की तीसरी लहर के बाद वैक्सीनेशन की रफ्तार धीमी पड़ गई थी। इसे देखते हुए स्वास्थ्य विभाग लगातार दूसरा और प्रिकॉशन डोज लेने का आह्वान कर रहा है। अभिभावकों और उनके बच्चों को वैक्सिनेट किए जाने की अपील की जा रही है। इन सबके बीच मई महीने में टीकाकरण को अल्प प्रतिसाद मिल रहा था। हालांकि जून में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के बीच टीकाकरण की रफ्तार भी तेज हो गई है।
२,६२,७२० लोगों को लगा टीका
मनपा स्वास्थ्य विभाग के मुताबिक मुंबई में मई महीने के दौरान कुल २,१२,४१३ लोगों को टीका लगाया गया था। वहीं २१ जून तक २,६२,७२० लोगों को टीका लगा है। दूसरी तरफ राज्य में मई में १८,३५,४५९ लोग वैक्सिनेट हुए, जबकि जून महीने में २१ तारीख तक १७,३२,६५९ लोगों को टीका लगा है। राज्य स्वास्थ्य विभाग के अनुसार जून के आखिरी दिन तक महाराष्ट्र मई के आंकड़ों को पार कर जाएगा।
स्वास्थ्य विभाग कर रहा है प्रयास
मनपा की कार्यकारी स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मंगला गोमारे के मुताबिक नागरिकों को टीकाकरण के महत्व को समझाने के लिए स्वास्थ्य विभाग सभी तरह के प्रयास कर रहा है। उन्होंने संभावना जताते हुए कहा है कि मरीजों की संख्या बढ़ रही है। ऐसे में सभी से अपील की जा रही है कि पात्र लाभार्थी वैक्सीन सेंटरों पर जाकर प्रिकॉशन डोज लगवाएं।

अन्य समाचार