मुख्यपृष्ठनए समाचारधमकी के पीछे के मास्टरमाइंड को ढूंढो! ...प्रतिपक्ष के नेता अजीत पवार...

धमकी के पीछे के मास्टरमाइंड को ढूंढो! …प्रतिपक्ष के नेता अजीत पवार की मांग

सामना संवाददाता / मुंबई
राकांपा अध्यक्ष शरद पवार को सोशल मीडिया पर ‘तुम्हारा जल्द दाभोलकर होगा’ इस प्रकार की धमकी देना यह गंभीर विषय है। केंद्र और राज्य सरकार को इस धमकी को गंभीरता से लेते हुए आरोपी को तत्काल गिरफ्तार करना चाहिए। इसके साथ धमकी के पीछे मास्टरमाइंड कौन है, इसकी खोज करने की आवश्यकता है। ऐसे असामाजिक तत्वों को समय पर रोकना यह राज्य हित में होगा, ऐसी प्रतिक्रिया प्रतिपक्ष के नेता अजीत पवार ने दी। शरद पवार को दी गई धमकी के संदर्भ में अजीत पवार ने आगे कहा कि शरद पवार का संरक्षण करने में महाराष्ट्र की जनता सक्षम है। परंतु डॉ. दाभोलकर की हत्या करने वाली शक्ति पुन: सक्रिय हो रही है। यह चिंता की बात है। चुनाव नजदीक आने लगा है। इससे आगे जाति, धर्म, पंथ, प्रांत, भाषा आदि मुद्दे उठाकर समाज में द्वेष निर्माण कर मतों के ध्रुवीकरण के प्रयास किए जाएंगे। देश की जनता अब सावधान है। समाज में द्वेष निर्माण करने वालों को भूलेगी नहीं और उन्हें सबक सिखाए बिना नहीं रहेगी। पवार ने कहा कि किसानों के सवाल, मेहनतकशों की समस्या, महिलाओं पर अत्याचार, बढ़ती महंगाई, बढ़ती बेरोजगारी यह मुद्दे महाराष्ट्र में आगे भी रहेंगे। विकास के मुद्दे से महाराष्ट्र की जनता रत्ती भर पीछे नहीं हटेगी, ऐसा विश्वास अजीत पवार ने व्यक्त किया।
मुंबई पुलिस ने जांच शुरू की
पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने मीडिया को बताया कि मामले का संज्ञान लेते हुए पुलिस प्राथमिकी दर्ज कर ली है। इससे पहले राकांपा नेताओं ने पुलिस को बताया कि ८२ वर्षीय शरद पवार को फेसबुक पर एक संदेश मिला, जिसमें लिखा था कि उनका भी नरेंद्र दाभोलकर जैसा हश्र होगा। गौरतलब हो कि अंधविश्वास के खिलाफ लड़ने वाले दाभोलकर की २० अगस्त २०१३ को पुणे में सुबह की सैर के समय बाइक पर सवार अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।

अन्य समाचार

फेक आलिया