मुख्यपृष्ठनए समाचार५वें चरण में भी फर्जीवाड़ा! ... पूरे देश से आईं फरेब की...

५वें चरण में भी फर्जीवाड़ा! … पूरे देश से आईं फरेब की खबरें

एक ही नाबालिग ने डाले भाजपा को आठ वोट
फतेहपुर में महिला से जबरन भाजपा को डलवाया वोट
कौशांबी में दलितों ने कमल को नहीं दिया वोट तो कार्यकर्ताओं ने पीटा

सामना संवाददाता / लखनऊ
कल रविवार को देश में लोकसभा के पांचवें चरण की वोटिंग हुई। इसमें भी भाजपा की तरफ से फर्जीवाड़ा देखने को मिला। यूपी के कई स्थानों से भाजपाइयों की करतूत सामने आई है। ऐसी ही एक घटना में फर्रुखाबाद के एटा से एक हैरतअंगेज खबर आई। वहां एक नाबालिग ने आठ बार वोट डाले और उसका वीडियो भी बना लिया। इस वीडियो के वायरल होते ही हड़कंप मच गया। पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने इसे चुनाव आयोग को टैग करके ट्वीट कर दिया। इसके बाद प्रशासन हरकत में आया।
बता दें कि उस वायरल वीडियो में नजर आ रहा है कि एक लड़का भाजपा प्रत्याशी को बारी-बारी से आठ वोट डालता है और उसका वीडियो भी बनाता है। सबसे पहले इस वीडियो को अखिलेश यादव ने ‘एक्स’ पर पोस्ट किया और चुनाव आयोग से कार्रवाई करने को कहा। जब जांच शुरू हुई तो पता चला कि यह खिरिया पमारान थाना नयागांव जनपद एटा के नाबालिग की हरकत है। बता दें कि पूर्व में गुजरात के एक शख्स ने इसी तरह की हरकत करते हुए वीडियो बनाई थी। इसके अलावा वहां के एक भाजपा सांसद के नाबालिग बेटे ने वोट डालते हुए सोशल मीडिया पर लिखा था कि मतदान केंद्र मेरे बाप का। अब यूपी की यह घटना उसी की अगली कड़ी है। पांचवें चरण में कौशांबी में भाजपा को वोट न देने पर भाजपा कार्यकर्ताओं ने दलितों को पीटा। यूपी कांग्रेस ने ‘एक्स’ पर वीडियो शेयर कर लिखा, ‘बीजेपी फिर सत्ता में आ गई तो दलितों से वोट का अधिकार छीन लेगी।’ इसी तरह फतेहपुर में एक महिला से जबरन भाजपा को वोट डलवाने का आरोप लगाया। मतदान केंद्र पर नियमों की धज्जियां वैâसे उड़ाई गर्इं, यह इसी से समझा जा सकता है कि केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह जब मतदान करने पहुंचे तो भीतर मतदान अधिकारी उनके साथ सेल्फी लेते नजर आए। इसी तरह वैदिक बालविद्या मंदिर पोलिंग बूथ के २४२ कमरा नंबर के कर्मचारी भाजपा को वोट देने के लिए कहते पाए गए। एक महिला ने वहां मौजूद पुलिस कर्मियों से इसकी शिकायत भी की। एक अन्य घटना में एक बुजुर्ग शख्स वायरल वीडियो में बता रहा है कि रायबरेली विधानसभा क्षेत्र में बूथ नंबर ३१२ पर १०-१२ लोग आए और कांग्रेस की पर्ची काट रहे लोगों से पूरा बस्ता ही छीनकर भाग गए। साथ में प्रशासन के लोग भी थे।

एफआईआर दर्ज, पोलिंग टीम सस्पेंड
यूपी के मुख्य निर्वाचन अधिकारी नवदीप रिणवा ने बताया कि एटा के उक्त बूथ के मतदान दल के सभी सदस्यों को निलंबित करने एवं उनके विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही संस्थित करने के निर्देश जारी किए गए हैं। संबंधित मतदान केंद्र पर चुनाव आयोग को पुनर्मतदान की सिफारिश की गई है। मतदान करनेवाले नाबालिग कें खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है। नयागांव थाने में आईपीसी की धारा १७१-एफ और ४१९, आरपी एक्ट ९५१ की धारा १२८, १३२ और १३६ के तहत दर्ज की गई है। नाबालिग की पहचान खिरिया पमारान गांव निवासी राजन सिंह पुत्र अनिल सिंह के रूप में हुई है और उसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

अन्य समाचार