मुख्यपृष्ठखेलफुल ऑन जोश!

फुल ऑन जोश!

इन दिनों हर तरफ वर्ल्डकप २०२३ की चर्चा है। इसमें अगर कोई टीम सुर्खियां बटोर रही है तो वह कोई और नहीं बल्कि टीम इंडिया है। हर तरफ सिर्फ और सिर्फ उसी का शोर है। जैसे-जैसे टीम इंडिया मैच खेल रही है हर शख्स केवल एक ही दुआ कर रहा कि इंडिया जीत जाए। टीम इंडिया केवल जीत ही नहीं रही है बल्कि एक बेहतरीन स्कोर से बड़ी जीत हासिल कर रही है। ऐसे में हर हिंदुस्थानी केवल दिल और दिमाग से सिर्फ यही दुआ कर रहा है कि वर्ल्डकप इंडिया जीत जाए। आपको जानकर अच्छा लगेगा कि एआई ने तो फाइनल मैच से पहले ही टीम इंडिया को विनर बना दिया है। एआई ने ही नहीं बल्कि टीम इंडिया के धुरंधर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी ने भी इस बारे में इशारे-इशारे में टीम इंडिया को विजेता मान लिया है। दरअसल, एक कार्यक्रम के दौरान माही ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुई कहा कि यह टीम बहुत अच्छी है। बहुत अच्छा संतुलन है टीम का। सभी खिलाड़ी अच्छा खेल रहे हैं। इसलिए सब कुछ बहुत अच्छा दिख रहा है। इससे ज्यादा मैं कुछ नहीं बोलूंगा, बाकी समझदार को इशारा काफी होता है।’
गौरतलब है कि टीम इंडिया का वर्ल्डकप की तरफ बढ़ता हर कदम उसे जीत की तरफ लेकर जा रहा है। वर्ल्डकप के लिए अब तक हुए सारे मैचों में इंडिया ने जीत हासिल की है। कल मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए मैच में जीत किसी भी टीम की हुई हो लेकिन इस बार वर्ल्डकप में टीम इंडिया का ही दबदबा रहा है। विश्वकप २०२३ में टीम इंडिया अब तक वर्ल्ड कप जीतने की सबसे पसंदीदा टीम मानी जा रही है। पैंâस उस दिन का इंतजार कर रहे जब १२ साल बाद टीम इंडिया के हाथों में वनडे विश्व कप की ट्रॉफी होगी। हालांकि, भारतीय टीम के प्रदर्शन से यही साफ होता है कि वह दिन अब दूर नहीं है, जब हम टीम इंडिया को चैंपियन बनते हुए देखेंगे। हिंदुस्थान इस साल बिना हारे चैंपियन बनता हुआ दिखाई दे रहा है।
टीम इंडिया की शानदार गेंदबाजी और सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजी ने सभी टीमों को बौना साबित किया है। बिंदास खेलनेवाली टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मुकाबले को छोड़ दे तो बचे हुए सभी मैचों में टीम इंडिया बिना किसी प्रेशर के खेलते दिखी। पाकिस्तान, नीदरलैंड, श्रीलंका और अफगानिस्तान जैसी टीमों के खिलाफ तो टीम इंडिया ने आसान जीत दर्ज की। ऐसे में ये सब टीम इंडिया के लिए शुभ संकेत हैं। वहीं अगर हम बात टीम इंडिया की `हिट’ मैन कहे जाने वाले रोहित शर्मा की करें तो उनकी कप्तानी ने भी कमाल दिखाया है। जिस तरह महेंद्र सिंह धोनी अपने करियर के दौरान किया करते थे। कई लोगों ने तो उन्हें इस विश्वकप में धोनी जैसा ही बताया है। अब तक रोहित ने भारत के लिए १०० मैचों में कप्तानी की है, जिसमें से ७५ मुकाबले भारत ने जीते हैं। यानी एक कप्तान के रूप में शर्मा जी का विनिंग परसेंटेज ७५ प्रतिशत है। रोहित सिर्फ कप्तानी से ही नहीं बल्कि बल्ले से भी हिट रहे हैं।
टीम इंडिया के पास इस साल कमाल की बॉलिंग-बैटिंग यूनिट है। विराट कोहली, रोहित शर्मा जैसे खिलाड़ी बल्ले से कमाल का प्रदर्शन कर रहे हैं। इसके अलावा सूर्यकुमार यादव, केएल राहुल और रवींद्र जडेजा भी समय समय पर टीम के लिए अहम भूमिका निभा रहे हैं। इस साल सबसे ज्यादा बात टीम इंडिया की बॉलिंग यूनिट की हो रही है। मोहम्मद सिराज, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह ऐसे नाम हैं, जिन्होंने लगभग हर मैच में कमाल का परफॉर्म किया है। अच्छी बात तो यह है कि हर मैच में अलग अलग मैच विनर निकलकर आ रहे हैं। आउट ऑफ फॉर्म चल रहे श्रेयस अय्यर और शुभमन गिल ने श्रीलंका के खिलाफ अच्छी बैटिंग की। ऐसे में यह कहना कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी कि टीम इंडिया इस बार वर्ल्डकप जीत सकती है।

अन्य समाचार