मुख्यपृष्ठनए समाचारगांधी एक विचार हैं, उन्हें भाजपा की तरह मार्केटिंग की नहीं है...

गांधी एक विचार हैं, उन्हें भाजपा की तरह मार्केटिंग की नहीं है जरूरत!.. रोहित पवार का मोदी पर हमला

सामना संवाददाता / मुंबई

दुनिया को सत्य, अहिंसा, प्रेम और सर्वधर्म सद्भाव का विचार देने वाले राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक बयान चर्चा में है। मोदी के बयान से एक नए विवाद के संकेत मिल रहे हैं। साथ ही कुछ लोग यह भावना भी व्यक्त कर रहे हैं कि इस बयान से महात्मा गांधी का अपमान हुआ है। मोदी के बयान पर एनसीपी (शरदचंद्र पवार) पार्टी के नेता रोहित पवार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा है।
जब महात्मा गांधी पर पहली फिल्म बनी तो दुनिया गांधी के बारे में जानने को उत्सुक हो गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि इससे पहले उन्हें कोई नहीं जानता था। उन्होंने ये बयान एक न्यूज चैनल को दिए साक्षात्कार में दिया। मोदी के इस बयान के बाद एक बार फिर सियासी माहौल गरमाने की संभावना है। साथ ही महात्मा गांधी के विचारों को दुनिया तक पहुंचाने के लिए ७५ वर्षों में कोई प्रयास नहीं किए गए। उन्होंने यह भी कहा कि हम उन विचारों की मार्केटिंग करने में पीछे रह गए हैं। उनके इस बयान पर रोहित पवार ने पोस्ट कर मोदी पर हमला बोला है।
रोहित पवार द्वारा पोस्ट किए गए ट्वीट में कहा गया कि ‘महात्मा गांधी, जिनके विचार पूरी दुनिया में अमर हैं, जिन्होंने दुनिया को सत्य, अहिंसा, प्रेम और सर्वेश्वरवाद का विचार और उपवास तथा सत्याग्रह के हथियार दिए, जिनकी मूर्तियां पूरी दुनिया में लगाई गईं। रोहित पवार ने आगे कहा है कि ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा एक इंटरव्यू में दिया गया यह बयान पूरी तरह से गलत है।’ यह टेलीप्रॉम्प्टर की गलती है या वैचारिक रूप से कमजोर अधिकारियों द्वारा लिए गए ब्रीफ की, यह पता नहीं चल पाया है। अगर ऐसा है तो मोदी को ऐसे अधिकारियों को तुरंत हटा देना चाहिए, ताकि गलत बयानों से प्रधानमंत्री पद की गरिमा कम न हो और राष्ट्रीय नेता के बारे में गलत संदेश न जाए, इसके अलावा चूंकि गांधी एक विचार है इसलिए उन्हें बीजेपी की तरह मार्केटिंग की जरूरत नहीं है… लोग गांधी के विचारों को खुद स्वीकार करते हैं, ऐसा रोहित पवार ने कहा।

अन्य समाचार