मुख्यपृष्ठस्तंभघाव : नाजायज संबंधों का नश्तर! ...बेवफाई बना रही है जीवन साथी...

घाव : नाजायज संबंधों का नश्तर! …बेवफाई बना रही है जीवन साथी को गुनहगार

• पति के लिए प्रेग्नेंट महिला बनी कातिल
• पत्नी के लिए युवक ने किया कत्ल

जितेंद्र मल्लाह।  इसे जीवन में सोशल मीडिया की अत्यधिक घुसपैठ का साइड इफेक्ट कहें या फिर पश्चिमी संस्कारों के अंधानुकरण की बढ़ती प्रवृत्ति लेकिन ये आम हिंदुस्थानियों के गृहस्थ जीवन को तबाह कर रहा है। सनातन संस्कृति में जिस विवाह को जन्म-जन्मांतर का साथ कहा गया है। लेकिन सात फेरे लेकर सात जन्मों तक साथ निभाने की कसमें खानेवाले लोगों में अब जीवन साथी से बेवफाई करने की प्रवृत्ति बढ़ रही है। यह वर्तमान में अपराध के बढ़ने की नई वजह बन रही है। बेवफाई के कारण लोग मरने-मारने को उतारू हो जा रहे हैं। कहीं पति, तो कहीं पत्नी या फिर `वो’ यानी दोनों के बीच आनेवाले को अपनी जान गंवानी पड़ रही है। बीते सप्ताहभर में मुंबई महानगर में घटी ऐसी ही एक घटना में एक गर्भवती महिला ने अपने पति की प्रेमिका को, तो वहीं दूसरी घटना में एक व्यक्ति ने पत्नी के कथित प्रेमी को मौत के घाट उतार दिया।

नाले में मिली किशोरी के शव की गुत्थी नेहरू नगर पुलिस ने सुलझा ली है। विवाहित व्यक्ति से प्रेम-प्रसंग के कारण हत्या की इस वारदात को अंजाम दिया गया था। गुनाह पर पर्दा डालने के लिए लाश को बोरी में भरकर नाले में फेंका गया था लेकिन पुलिस ने २४ घंटों के भीतर आरोपी महिला, उसकी बहन और सहेली को गिरफ्तार कर लिया है।

सहेली ने खोला था राज
कुर्ला-पूर्व में बीते बुधवार को एक किशोरी की लाश मिली थी। लाश बोरे में भरकर नेहरू नगर पुलिस थाने की हद में स्थित बंटर भवन के पास नाले में फेंकी गई थी। इससे ये साफ हो गया था कि ये हत्या का ही मामला है। सीसीटीवी वैâमरों से मिली फुटेज के आधार पर पुलिस ने उस ऑटोरिक्शा की पहचान कर ली थी, जिससे लाश वाले बोरे को बंटर भवन तक लाया गया था। ऑटोरिक्शा चालक की मदद से पुलिस ठक्कर बाप्पा कॉलोनी में रहनेवाली मनीषा पवार (बदला हुआ नाम) तक पहुंच गई। मनीषा पवार से पूछताछ में मृत किशोरी की पहचान तृषा मिस्त्री (बदला हुआ नाम) के रूप में सामने आई। मनीषा ने बताया कि उसके पति दीपक (काल्पनिक नाम) का तृषा से नाजायज संबंध था। दीपक ने मनीषा की सहेली रानी (बदला हुआ नाम) के घर में तृषा को रखा था। उसने रानी से इसे गुप्त रखने को कहा था लेकिन रानी ने मनीषा को इस बारे में बता दिया। इसके बाद १ अक्टूबर को मनीषा अपनी बड़ी बहन के साथ रानी के घर पहुंच गई और उसने वहां तृषा का गला घोंटकर कत्ल कर दिया।

पत्नी के प्रेमी की पिटाई से मौत
मूलरूप से रायगढ़ जिले के पोलादपुर तालुका अंतर्गत कापड़े बुद्रुक गांव में रहनेवाले रवि पटाईत (काल्पनिक नाम) को इलाज के लिए सायन अस्पताल में भर्ती किया गया था। वहां इलाज के दौरान ६ अक्टूबर को १९ वर्षीय रवि की मौत हो गई थी। इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि भांडुप में रहनेवाले आरोपियों में से एक की पत्नी से रवि के नाजायज संबंध थे। इस बात की भनक लगने पर २६ सितंबर को आरोपी पति ने दो अन्य लोगों के साथ मिलकर रवि को डंडे, बेल्ट आदि से बुरी तरह से पीटा था। बुरी तरह से घायल रवि को परिजनों ने मुलुंड जनरल अस्पताल में भर्ती कराया था, बाद में डॉक्टरों ने उसे सायन अस्पताल भेज दिया था। अंदरूनी चोट लगने से रवि के पेट में पानी भर गया और बाद में उसकी मौत हो गई।

डेटिंग ऐप्स पर खुशियां तलाश रहे हैं लोग
जरूरतों की पूर्ति के लिए बढ़ती प्रतिस्पर्धा में लोग जीवन साथी के लिए वक्त नहीं निकाल पाते हैं। इससे वैवाहिक जीवन में नीरसता बढ़ रही है। शादीशुदा जिंदगी में नाखुश होकर डेटिंग ऐप्स पर खुशियां तलाश रहे हैं। ऐसे पुरुषों की संख्या महिलाओं से कहीं ज्यादा है। एक्स्ट्रा-मैरिटल डेटिंग ऐप ग्लीडेन की कंट्री मैनेजर सिबिल शिडेल कहती हैं कि भारत में उनके ऐप यूजर्स में ७५ प्रतिशत पुरुष हैं तो ३५ प्रतिशत महिलाएं। हालांकि ग्लोबल लेवल पर ६० प्रतिशत पुरुष और ४० प्रतिशत महिलाएं इस ऐप को यूज कर रही हैं। अधिकतर पुरुषों की उम्र ३५ साल से ज्यादा है तो डेटिंग करनेवाली महिलाओं में २६ साल के बाद की महिला यूजर्स की संख्या अधिक देखने को मिल रही है।

अन्य समाचार