मुख्यपृष्ठनए समाचारछात्राओं ने खून से लिखा खत ... तब जागी योगी सरकार!

छात्राओं ने खून से लिखा खत … तब जागी योगी सरकार!

छात्राओं को छेड़नेवाला प्रधानाचार्य हुआ गिरफ्तार
सामना संवाददाता / लखनऊ
गाजियाबाद के एक स्कूल का प्रधानाचार्य रोज छात्राओं के साथ छेड़छाड़ करता है। इन छात्राओं ने उसके खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई तो अब उनका उत्पीड़न शुरू हो गया है। अब छात्राओं ने न्याय की मांग को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को खून से पत्र लिखा है। इसमें छात्राओं ने मुख्यमंत्री से आरोपी प्रधानाचार्य पर कार्रवाई की मांग की है। इसके बाद प्रशासन की नींद टूटी और इस प्रधानाचार्य को गिरफ्तार किया गया है।
छात्राओं ने अपने पत्र में लिखा, ‘बाबा जी, हम सब आपकी बिटिया हैं, हमें न्याय दीजिए।’ ये पत्र काफी वायरल हो रहा है और हर तरफ इसकी चर्चा है। गाजियाबाद के वेव सिटी थाने में छात्राओं ने गत २१ अगस्त को स्कूल के प्रधानाचार्य के खिलाफ छेड़छाड़ की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। मामले में पुलिस ने कार्रवाई नहीं की तो छात्राओं के परिजन स्कूल पहुंचे। आरोप है कि उन्होंने स्कूल में घुसकर प्रधानाचार्य की पिटाई कर दी।
गांव में हुई पंचायत
इस मामले में गांव में पंचायत भी हो चुकी है। इसमें प्रधानाचार्य के खिलाफ कार्रवाई की मांग उठी थी। छात्राएं थाने जाकर प्रदर्शन भी कर चुकी हैं। कोई कदम नहीं उठाए जाने पर छात्राओं ने मांग की है कि मुख्यमंत्री उन्हें मिलने के लिए समय दें, वे अपनी बात बताना चाहती हैं।

‘तुम्हारी जिंदगी खराब हो जाएगी’
छात्राओं का आरोप है कि प्रधानाचार्य के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद स्कूल के प्रबंधक नाराज हो गए हैं। उन्होंने उन्हें स्कूल आने के लिए मना कर दिया है। कह रहे हैं, तुम्हारी जिंदगी खराब हो जाएगी। पुलिस भी सुनवाई नहीं कर रही है। वे शिकायत लेकर गए तो एक अधिकारी ने चार घंटे थाने में बिठाकर रखा। उनका घर से निकलना मुश्किल हो गया है। छात्राओं के मुताबिक उनके माता-पिता और गांववालों का कहना है कि प्रधानाचार्य अधिकारी हैं, इसलिए उन्हें कोई भी दंड नहीं मिलेगा और छात्राओं व अभिभावकों की जिंदगी बिल्कुल खराब हो जाएगी, इसलिए उन्होंने मुख्यमंत्री को पत्र लिखा।

 

अन्य समाचार