मुख्यपृष्ठनए समाचारबच्ची का शव पड़ोसी के बंद कमरे से मिला

बच्ची का शव पड़ोसी के बंद कमरे से मिला

सामना संवाददाता / भिवंडी

भिवंडी में फेने गांव में तीन दिन से गायब एक छह वर्षीय मासूम बच्ची का शव पड़ोसी के बंद रूम से बरामद हुआ है, जिसकी गला घोंटकर हत्या किए जाने के बाद शव को प्लास्टिक ड्रम में छुपा दिया गया था। पुलिस ने अज्ञात हत्यारे पर केस दर्ज कर उसकी तलाश में जुट गई है। पुलिस को आशंका है कि बच्ची की हत्या पड़ोसी रूम में रहने वाला कर फरार हो गया है।
भिवंडी शहर पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक चेतन काकड़े ने बताया कि फेनेगांव में बाबा स्कूल के पास रहने वाली एक छह वर्षीय मासूम बच्ची 13 सितंबर को दोपहर में 12 बजे घर के बगल से ही खेलने के दौरान गायब हो गई थी, जिसके अपहरण का केस दर्जकर पुलिस बच्ची की तलाश सरगर्मी से कर रही थी। इसी दौरान 15 सितंबर को दोपहर में पुलिस को सूचना मिली कि इसी इलाके के एक बंद रूम से जोरदार दुर्गंध आ रही है। उक्त सूचना को गंभीरता से लेकर पुलिस तत्काल मौके पर पहुंचकर जब बंद रूम का ताला तोड़कर घर के अंदर घुसी तो उसके पैरों तले जमीन खिसक गई।
सीनियर पीआई चेतन काकड़े ने बताया कि रूम में रखे एक छोटे प्लास्टिक के ड्रम में एक बच्ची का लाश बरामद हुआ। यह लाश उसी बच्ची की थी, जो बगल के रूम में रहती थी और दो दिन पहले से गायब थी। मृतक लड़की के गले पर मिले निशान से यह साफ हो गया कि बच्ची का गला घोंटकर उसे मौत के घाट उतारा गया है।उन्होंने बताया कि हत्या से पहले बच्ची के साथ हुए घटना की सही जानकारी का पता लगाने के लिए शव को पोस्टमार्टम के लिए मुंबई के जेजे अस्पताल में भेजा गया है। इधर पुलिस ने अज्ञात आरोपी पर हत्या का केस दर्ज कर उसकी तलाश में जुट गई है। पुलिस को आशंका है कि बच्ची की हत्या रूम में रहने वाले व्यक्ति ने की होगी, जो दो दिन से रूम में ताला लगाकर फरार है। उन्होंने बताया कि मृतक बच्ची का पिता पावरलूम चलता है, जबकि मां गोदाम में काम करती थी। बच्ची के अकेलेपन का फायदा उठाकर उसकी हत्या की गई है। इस घटना के बाद क्षेत्र में घोर आक्रोश व्याप्त है।

अन्य समाचार