मुख्यपृष्ठनए समाचारकुर्ला के दो सौ वर्ष पुराने रामेश्वर मंदिर से भगवान के आभूषण...

कुर्ला के दो सौ वर्ष पुराने रामेश्वर मंदिर से भगवान के आभूषण चोरी

सामना संवाददाता / मुंबई

प्राचीन समय से ही भारत ऋषियों और मुनियों का देश रहा है। भारत को विश्व गुरु का भी दर्जा प्राप्त है। भारत देश में जहां ईश्वर के प्रति इतनी अगाध आस्था है, वहीं पर इस कलयुग में भारत में कुछ ऐसे नागरिक पैदा हो रहे हैं जो दौलत की माया के पीछे इस तरह से पागल हुए हैं कि इंसान तो क्या ईश्वर को भी नहीं बख्श रहे हैं।

कुर्ला-पश्चिम के कमानी स्थित रामेश्वर मंदिर में अज्ञात चोरों ने गुरुवार देर रात चोरी की। चोरी करने के लिए चोरों ने मंदिर का गेट तोड़ा और मंदिर में प्रवेश किया। मंदिर में रखी दानपेटी को चुरा ले गए और भगवान विट्ठल तथा रुक्मणी जी के चांदी के मुकुट भी चुरा ले गए। इसके अलावा भगवान भोलेनाथ का त्रिशूल और बजरंगबली का गदा भी चोर उठा ले गए। सावन के पवित्र महीने में हुई इस चोरी से कुर्ला क्षेत्र के नागरिकों में पुलिस के प्रति गहरा असंतोष फैला हुआ है। क्योंकि विनोबा भावे नगर पुलिस अभी तक इस मामले को सुलझा नहीं पाई है, जबकि दोनों चोर सीसीटीवी कैमरे में कैद हैं। यह मंदिर करीब २०० वर्ष पुराना है।  मंदिर के व्यवस्थापक सुरेश भाऊ भोगले  ने बताया कि मंदिर में चोरी होना कलयुग की पराकाष्ठा है। इस संदर्भ में संपर्क करने पर विनोबा भावे नगर पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक राजीव चौहान ने बताया कि आरोपियों की पहचान कर ली गई है और शीघ्र ही उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

अन्य समाचार