मुख्यपृष्ठसमाचारबजरी ने दिया राजस्थान सरकार को झटका! ... नीलामी के १५ दिन...

बजरी ने दिया राजस्थान सरकार को झटका! … नीलामी के १५ दिन बाद भी जमा नहीं हुआ पैसा

जयपुर। राजस्थान में बजरी के ब्लॉक की पिछले महीने (मार्च) में हुई नीलामी के बाद अब सरकार को बड़ा झटका लगा है। इन ब्लॉक को जिन कंपनियों ने नीलामी में खरीदा था। उनमें से अब आधे ब्लॉक भी कंपनियां लेने को तैयार नहीं है। यही कारण है कि नीलामी के बाद 15 दिन में कंपनियों को ऑक्शन राशि का 40 फीसदी पैसा 15 दिन में खान विभाग में जमा करवाना था, लेकिन वह जमा नहीं हुआ। अब विभाग असमंज में है कि इन कंपनियों को पैसा जमा करवाने के लिए अतिरिक्त समय दिया जाए या सेकंड लोवर बोलीदाता को ब्लॉक आवंटित करने के लिए कॉल अथवा नए सिरे से नीलामी की जाए।

दरअसल मार्च में खान विभाग ने भीलवाड़ा और सिरोही जिले में 7-7 ब्लॉक के लिए ऑनलाइन नीलामी की थी। सूत्रों के मुताबिक भीलवाड़ा के 7 ब्लॉक की कुल नीलामी राशि 497.61 करोड़ रुपए रही, जबकि सिरोही के सातों ब्लॉक की नीलामी 120.07 करोड़ रुपए के करीब रही। भीलवाड़ा में जिन कंपनियों ने सात ब्लॉक खरीदे उनमें से केवल 2 ही ऐसी कंपनियां है। जिन्होंने नीलामी छूटने के बाद निर्धारित राशि (नीलामी राशि का 40 फीसदी पैसा) जमा करवाया है। जबकि 5 कंपनियों ने अब तक नीलामी राशि का निर्धारित पैसा जमा नहीं करवाया है।

खान विभाग ने इन सभी 14 ब्लॉक की नीलामी 27 मार्च को ऑनलाइन की थी। इसमें सबसे महंगा ब्लॉक भीलवाड़ा का था, जिस पर एक कंपनी ने 170 करोड़ रुपए की बोली लगाई थी। इस तरह भीलवाड़ा-सिरोही के सभी ब्लॉक की नीलामी के बाद राज्य सरकार को अप्रैल में करीब 200 करोड़ रुपए मिलने थे। सूत्रों की माने तो अब तक केवल विभाग को भीलवाड़ा के सभी ब्लॉक से केवल दो ही ब्लॉक के 20.16 करोड़ रुपए मिले है। वहीं सिरोही के सभी 7 ब्लॉक में भी स्थिति यही बताई जा रही है। यहां भी अभी तक सभी कंपनियों ने नीलामी के बाद निर्धारित राशि जमा नहीं करवाई है।

अन्य समाचार