मुख्यपृष्ठनए समाचारहिंदुओं को सुरक्षा देने में सरकार पूरी तरह असफल! ...नूंह हिंसा के...

हिंदुओं को सुरक्षा देने में सरकार पूरी तरह असफल! …नूंह हिंसा के विरोध में पालघर में विहिप-बजरंग दल का प्रदर्शन

• दंगाइयों पर अब तक क्यों नहीं चला बुलडोजर?
• दोषियों को फांसी देने की मांग
योगेंद्र सिंह ठाकुर / पालघर
हरियाणा के नूंह में बृज मंडल यात्रा के दौरान हुई हिंसा के बाद हरियाणा की खट्टर सरकार के विरोध में लोगों में जमकर आक्रोश है। नूंह हिंसा के विरोध में बुधवार को विहिप-बजरंग दल ने देश भर में प्रदर्शन किया। पालघर में भी विहिप-बजरंग दल ने प्रदर्शन कर राष्ट्रपति को संबोधित ज्ञापन पुलिस अधिकारियों को सौंपा है। इस दौरान हिंदुत्ववादी नेताओं ने खट्टर सरकार की जमकर बखिया उखेड़ी और सवाल पूछा कि दंगाई जब दंगे की प्लानिंग कर रहे थे तो क्या सरकार सो रही थी? क्यों नहीं समय रहते कार्यवाही की गई? विहिप नेता मुकेश दुबे ने कहा कि हिंदुओं का कोई भी धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन शांतिपूर्ण नहीं हो पा रहा है। धार्मिक कार्यक्रमों पर लगातार हमले हो रहे हैं, जिन्हें रोकने में सरकार पूरी तरह विफल हो रही है। उन्होंने सवाल पूछा कि दंगाइयों पर अब तक बुलडोजर क्यों नहीं चला? क्या यह खट्टर सरकार की कमजोरी नहीं है? हिंदुओं को सुरक्षा देने में सरकार विफल रही है।

बजरंग दल के गौ सेवा विभाग के प्रांतीय संयोजक चंदन सिंह ने कहा कि देश में लगातार धार्मिक यात्राओं पर हमला हो रहा है। दंगाइयों को चिन्हित कर सरकार फांसी दे। सावन के माह में धार्मिक यात्रा पर देश विरोधी विधर्मियों ने हरियाणा में महिलाओं पर हमला किया। उन पर सीधे फायरिंग की। सह क्या इस्लामिक जिहाद बताना चाहते हैं। विहिप-बजरंग दल ने हनुमान चालीसा का पाठ कर दोषियों को जल्द पकड़कर सजा देने की मांग की। बता दें कि नूंह हिंसा में अब तक ६ लोगों की मौत हो चुकी है, जिसमें २ होमगार्ड के जवान भी शामिल हैं और चार आम नागरिक बताए जा रहे हैं। काचू शेट्टी, एसपी सिंह, श्रीपाद पाटील, उमा सिंह, जीतू राजपुरोहित, अंकित, सिंह, आकाश नारखेड़े, भगवान कारू, सवाराम चौधरी, कुंदन सिंह, अरविंद सिंह सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

अन्य समाचार

लालमलाल!