मुख्यपृष्ठसमाचारउपवास पर भी जीएसटी का आघात! फलाहारों के दाम आसमान पर

उपवास पर भी जीएसटी का आघात! फलाहारों के दाम आसमान पर

सामना संवाददाता / ठाणे
केंद्र सरकार की गलत आर्थिक नीतियों के चलते आम लोग महंगाई की मार झेलने को मजबूर हैं। खाद्य पदार्थों से लेकर पेट्रोलियम तक के दामों में लगातार वृृद्धि हो रही है। आवश्यक खाद्य वस्तुओं पर ५ प्रतिशत की जीएसटी लगने की वजह से कीमत बढ़ गई है। अब उपवास पर भी जीएसटी का आघात लग गया है। पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष फलाहारों के दाम भी बढ़ गए हैं। उल्लेखनीय है कि उत्तरी भारत में यह महीना पहले ही शुरू हो चुका था। अब महाराष्ट्र, गुजरात एवं अन्य राज्यों में भी २९ जुलाई से शुरू हो गया है। इस महीने में हिंदू धर्म के अधिकतर लोग उपवास रखते हैं और फलाहार एवं उपवास की चीजें खाना पसंद करते हैं, जिनमें भगरी, साबूदाना, मूंगफली, राजगिरा, गुड़ आदि का समावेश है। पिछले साल के श्रावण मास की तुलना में व्रत का सामान महंगा हो गया है। अखिल भारतीय खाद्य तेल व्यापारी महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष शंकर ठक्कर ने बताया कि खाद्य पदार्थों पर लादी गई ५ प्रतिशत की जीएसटी की वजह से ही उपवास के सामान महंगे हो गए हैं।

अन्य समाचार