मुख्यपृष्ठनए समाचारगुलमोहर फिर हुआ गुलजार!

गुलमोहर फिर हुआ गुलजार!

• शिवतीर्थ पर ३५ वर्ष पहले शिवसेनाप्रमुख ने लगाया था
•  भारी बारिश और तेज तूफान से पेड़ गिर गया था
सामना संवाददाता / मुंबई
दादर स्थित शिवतीर्थ में तीन दिन पहले एक गुलमोहर का वृक्ष तेज बारिश और तूफानी हवाओं में गिर गया था। इस गुलमोहर के वृक्ष के गिरने से पूर्व महापौर किशोरी पेडणेकर और स्थानीय नगरसेविका विशाखा राऊत काफी चिंतित हो गई थीं। दोनों ने इस वृक्ष को बचाने के लिए मनपा के गार्डन विभाग से आग्रह किया। जिसके बाद मनपा गार्डन विभाग की टीम ने इस वृक्ष का पुन: रोपण किया। इस बार इसे शिवतीर्थ परिसर में लगाया गया है।
दरअसल इस गुलमोहर के वृक्ष को लगभग ३५ साल पहले हिंदूहृदयसम्राट बालासाहेब ठाकरे ने लगाया था। तब यह छोटा था, लेकिन पिछले ३५ वर्षों में यह विशाल रूप धारण कर चुका है। गत ८ तारीख को हुई तेज बारिश और तूफान के बीच यह गुलमोहर गिर गया। इसकी विशेषता को समझते ही पूर्व महापौर किशोरी पेडणेकर और शिवसेना की पदाधिकारी विशाखा राऊत ने इसे बचाने के लिए मनपा से आग्रह किया था। इसके बाद उद्यान विभाग के अधीक्षक जितेंद्र परदेसी और ‘जी’ नॉर्थ वॉर्ड के अधिकारी ने एक टीम बनाकर इस वृक्ष के पुन: रोपण की योजना बनाई थी। इस बारे में जितेंद्र परदेसी ने बताया कि चूंकि यह वृक्ष लगभग ३५ वर्ष पुराना था, इसलिए इसका पुन: रोपण थोड़ा मुश्किल था। इसकी विशेषता थी कि इसे शिवसेनाप्रमुख ने लगाया था इसलिए इसे बचाना और इसका पुन: रोपण बहुत जरूरी हो गया था, लेकिन अब यह वृक्ष पूरी तरह स्वस्थ है। इसकी जड़ें जमीन को पकड़ रही हैं। अगले कुछ दिनों में यह फिर से मजबूती से खड़ा हो जाएगा।

अन्य समाचार