मुख्यपृष्ठसमाचारहरियाणा सरकार की बर्बरता... बोरे में भरकर किसान को पीटा!

हरियाणा सरकार की बर्बरता… बोरे में भरकर किसान को पीटा!

सामना संवाददाता / चंडीगढ़ 

अपनी विभिन्न मांगों को लेकर केंद्र सरकार के खिलाफ किसान आंदोलन कर रहे हैं। दिल्ली कूच करने के लिए किसान सीमा पर डटे हुए हैं। सरकार के दबाव में सुरक्षा रक्षक किसानों को पीछे धकेलने के लिए बर्बरता दिखा रहे हैं। कहीं रबर की गोलियां दाग रहे हैं तो कहीं आंसू गैस के गोले छोड़ रहे हैं। अब इससे भी कहीं आगे जाते हुए पुलिस किसानों के साथ हैवानियत की हदें पार कर रही है। आरोप है कि पुलिस ने दिल्ली-हरियाणा सीमा खनौरी में संगरूर-जींद के पास से एक प्रदर्शनकारी किसान को कथित तौर पर किडनैप कर लिया और उसे बोरे में भरकर बेरहमी से उसकी पिटाई की है, उसके हाथ-पैर टूट गए हैं, जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहे उस किसान को इलाज के लिए पीजीआईईएमएस में भर्ती कराया गया है। प्रीतपाल के भाई गुरजीत सिंह ने इसकी पुष्टि की है। पुलिस की इस हैवानियत को लेकर किसानों में भारी आक्रोश है। हालांकि हरियाणा पुलिस ने अपहरण के आरोपों का खंडन किया है। पुलिस के अनुसार, पंजाब के संगरूर के नवागांव के निवासी किसान प्रीतपाल सिंह को घायल अवस्था में भर्ती कराया गया। उसे पहले रोहतक के अस्पताल में भर्ती कराया गया। बाद में उसकी बिगड़ी हालत को देखते हुए उसे २४ तारीख को पीजीआई चंडीगढ़ रेफर किया गया है।
किसानों के प्रति हैवान बने सुरक्षा रक्षक 
विरोध प्रदर्शन के दौरान पंजाब के कई किसानों ने दोनों राज्यों को अलग करने वाली शंभू और खनौरी सीमाओं पर हरियाणा पुलिस द्वारा `क्रूर कार्रवाई’ का आरोप लगाया है। हरियाणा पुलिस और अर्धसैनिक बलों ने दिल्ली जाने के लिए हरियाणा में प्रवेश करने की कोशिश कर रहे प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले, रबर की गोलियों, छर्रों और पानी की बौछारों का सहारा लिया है। आरोप है कि अब वे लोग किसानों को किडनैप कर हैवानियत से उनकी हड्डियां तोड़ रहे हैं। किसानों ने पुलिस पर असली गोलियों के इस्तेमाल का भी आरोप लगाया है, जिसका पुलिस ने खंडन किया है। उनका आरोप है कि कथित तौर पर `गोली लगने’ से २१ वर्षीय शुभकरण सिंह की मौत हुई। उनका यह भी आरोप है कि ३० वर्षीय प्रीतपाल सिंह को २१ फरवरी को हरियाणा पुलिस बोरी में डालकर अपने साथ ले गई और उसे बहुत पीटा, जबकि प्रीतपाल उस समय खनौरी सीमा पर ट्रैक्टर-ट्रॉली पर `लंगर’ बांट रहा था।

अन्य समाचार