मुख्यपृष्ठनए समाचारहाई स्पीड का हौवा... खोदा पहाड़ निकली ‘वंदे भारत'!

हाई स्पीड का हौवा… खोदा पहाड़ निकली ‘वंदे भारत’!

• सिर्फ ७२ किमी की होगी औसत स्पीड
• ७.३० घंटे में गांधीनगर-मुंबई की यात्रा
• ३० सितंबर से होगी शुरुआत
सुजीत गुप्ता / मुंबई
एक कहावत है खोदा पहाड़ निकाली चुहिया। ये कहावत भारतीय रेलवे की ‘वंदे भारत’ ट्रेन पर एकदम सटीक बैठती है। हाई स्पीड के नाम पर भारतीय रेलवे ने देश में वंदे भारत ट्रेन चलाने की योजना बनाई है। इस योजना को अमल में भी लाया जा चुका है और चरणबद्ध तरीके से वंदे भारत ट्रेन को दिल्ली-कटरा, दिल्ली-वाराणसी रूट पर शुरू करने के बाद अब मुंबई-गांधीधाम के बीच इसे चलाने की तैयारी इन दिनों जोरों से चल रही है। हाई स्पीड के नाम पर वंदे भारत ट्रेन को चलाने का ऐसा हौवा बनाया गया था कि मानो अब वंदे भारत ट्रेन १८० किमी प्रति घंटा की रफ्तार से चलेगी नहीं, बल्कि उड़ेगी। परंतु ये हाई स्पीड का हौवा वाकई में हौवा साबित हो रहा है। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं, क्योंकि ३० सितंबर से गांधीनगर से मुंबई के बीच वंदे भारत ट्रेन को शुरू करने की योजना बनाई गई है, परंतु इसकी औसत स्पीड पर गौर फरमाएं तो ये वंदे भारत ट्रेन इस रूट पर ७२.४२ किमी प्रति घंटा की रफ्तार से ही दौड़ेगी। ऐसे में इसे खोदा पहाड़ निकली वंदे भारत न कहें तो क्या कहें। ये ट्रेन गांधीधाम से मुंबई की दूरी साढ़े सात घंटे में तय करेगी।
बता दें कि ३० सितंबर से पश्चिम रेलवे ट्रेन संख्या २०९०१/२०९०२ गांधीनगर- मुंबई सेंट्रल के बीच वंदे भारत ट्रेन के परिचालन की शुरुआत कर रही है। इस ट्रेन को सप्ताह में ६ दिन चलाया जाएगा। माना जा रहा था कि वंदे भारत ट्रेन को कम-से-कम १३० किमी प्रति घंटा की रफ्तार से राजधानी एक्सप्रेस की स्पीड से चलाया जाएगा लेकिन ये ट्रेन मेल एक्सप्रेस ट्रेन की स्पीड से दौड़ेगी और गांधीनगर से मुंबई सेंट्रल की दूरी साढ़े सात घंटे में तय करेगी। वंदे भारत ट्रेन के इतने कम समय में दूरी तय करने की खास वजह ये है कि ये ट्रेन गांधीनगर से चलने के बाद केवल अमदाबाद, वडोदरा और सूरत स्टेशनों पर रुकेगी। यानी ये ट्रेन महज तीन ठहराव लेते हुए अपनी दूरी पूरी करेगी। ये ट्रेन १० अक्टूबर से रेगुलर मुंबई सेंट्रल से चलेगी। जानकारी के अनुसार वंदे भारत ३० सितंबर को गांधीनगर से सुबह साढ़े १० बजे छूटेगी और शाम १७ बजकर ४० मिनट पर मुंबई सेंट्रल पहुंचेगी। ऐसा कहा जा रहा है कि मोदी सरकार और भारतीय रेलवे हाई स्पीड के नाम पर वंदे भारत ट्रेन चलाकर मुंबई और गुजरात की जनता को उल्लू बना रही है।

अन्य समाचार