मुख्यपृष्ठसमाचारसमय पर इलाज न मिलने पर हो रहा हार्ट अटैक! सर्वे में...

समय पर इलाज न मिलने पर हो रहा हार्ट अटैक! सर्वे में २१ फीसदी महिलाएं और २४ फीसदी पुरुष उच्च रक्तचाप की समस्या से पीड़ित

सामना संवाददाता / मुंबई
न्यूबर्ग डायग्नोस्टिक्स के पैनल में शामिल विशेषज्ञों ने ‘उच्च रक्तचाप एवं दिल का दौरा’ के विषय पर आयोजित पैनल चर्चा के दौरान एक सुर में कहा कि दिल की सेहत को नियंत्रित रखने के लिए हमारे शरीर के महत्वपूर्ण संकेतों की निगरानी करना बेहद अहम है। लोगों को एंबुलेटरी ब्लड प्रेशर मॉनिटरिंग (एबीपीएम) के लिए उपलब्ध विभिन्न गैजेट्स के माध्यम से घर पर नियमित रूप से अपने बीपी की निगरानी करनी चाहिए फिर चाहे उनकी उम्र कुछ भी हो और उनमें इसके लक्षण दिखाई दें अथवा नहीं। हालांकि पारंपरिक तौर पर कई अलग-अलग वजहों से लोगों को दिल के दौरे की संभावना होती है। लेकिन उच्च रक्तचाप दिल की सेहत पर बुरा असर डालने वाले प्रमुख कारकों में से एक है क्योंकि इससे शरीर की धमनियां प्रभावित होती हैं। उच्च रक्तचाप की वजह से धमनी की दीवारों पर रक्त का दबाव लगातार बहुत अधिक होता है। इस खून को पंप करने के लिए को हमारे दिल को अधिक मेहनत करनी पड़ती है। धीरे-धीरे दिल पर लगातार पड़ने वाले दबाव की वजह से दिल की मांसपेशियां कमजोर हो सकती हैं और उनके काम करने की क्षमता घट सकती है। कंसल्टेंट इंटरवेंशनल कार्डियोलॉजी, फोर्टिस हॉस्पिटल मुंबई के डॉ. विवेक महाजन ने कहा कि कुछ दवाएं ऐसी होती हैं जो रक्तचाप की दवा के काम में बाधा डालती हैं और आगे चलकर इनकी वजह से रक्तचाप बढ़ जाता है, जिसमें आईबुप्रोफेन और डाइक्लोफेनेक वाली पेन-किलर श्रेणी की कुछ दवाएं शामिल हैं। डॉ. संदेश प्रभु ने कहा कि इस महामारी के दौरान हमने उच्च रक्तचाप के मामलों में बड़े पैमाने पर बढ़ोतरी देखी है और सामान्य तौर पर घर से काम करना इसकी मुख्य वजह है। इसके चलते उच्च रक्तचाप के साथ-साथ कोलेस्ट्रॉल, डायबिटीज इत्यादि के मामलों में भी बढ़ोतरी हुई है। डॉ. अजीत के.एन. ने कहा कि हम सभी यह अच्छी तरह जानते हैं कि रोकथाम हमेशा इलाज से बेहतर होता है और इसी वजह से समय-समय पर अपने रक्तचाप की जांच करवाना बेहद जरूरी है, भले ही इसके कोई लक्षण दिखाई दें या नहीं। इस तरह की संतुलित जीवन शैली के साथ-साथ नमक के सेवन का ध्यान रखने, मौसमी फल खाने, गहरी नींद सोने, शरीर के आदर्श वजन को बनाए रखने और शारीरिक गतिविधियों से कोशिकाओं में नई जान डालने और रक्तचाप को रोकने में मदद मिलती है, जिससे आप हमेशा सेहतमंद रहते हैं।

अन्य समाचार