मुख्यपृष्ठनए समाचारगौरीकुंड में भारी भूस्खलन, तेज बहाव में बहे कई लोग! ... २...

गौरीकुंड में भारी भूस्खलन, तेज बहाव में बहे कई लोग! … २ शव हुए बरामद

सामना संवाददाता / देहरादून
केदारनाथ यात्रा के सबसे मुख्य पड़ाव गौरीकुंड में गुरुवार देर रात बड़ा हादसा हो गया। पहाड़ी दरकने के कारण यहां तीन-चार दुकानें ध्वस्त हो गर्इं। इन दुकानों में मौजूद कई लोग घटना के समय से ही लापता चल रहे हैं। इनकी संख्या करीब दो दर्जन बताई जा रही है। लगातार तेज बारिश होने के कारण राहत अभियान चलाने में काफी दिक्कतें हो रही हैं। खबर लिखते वक्त तक २ लोगों के शव बरामद हुए थे।
बता दें कि पहाड़ी से गिरे बोल्डरों की चपेट में सोनप्रयाग-गौरीकुंड मोटरमार्ग के किनारे स्थित तीन से चार दुकानें नदी में बह गर्इं। इन दुकानों पर पहाड़ी से इतने भारी-भरकम बोल्डर गिरे कि उनका कुछ भी अता-पता नहीं है। गुरुवार देर रात एसडीआरएफ, एनडीआरएफ और डीडीआरएफ की टीमें राहत व बचाव कार्य के लिए पहुंचीं। लगातार तेज बारिश होने के कारण रात को ही बचाव अभियान रोकना पड़ा। ऐसे में अनुमान जताया जा रहा है कि लापता चल रहे लोग मंदाकिनी नदी की तेज धारा में बह सकते हैं। नदी भी विकराल रूप धारण करके बह रही है। नदी के ठीक ऊपर ही ये दुकानें स्थित थीं।

नेपाली परिवार के ७ लोग लापता
घटना में एक नेपाली परिवार के सात लोग लापता चल रहे हैं। इसमें नेपाली मूल के पति-पत्नी के अलावा उनके तीन पुत्र और तीन पुत्रियां शामिल हैं। लापता होनेवालों में कुछ स्थानीय लोग भी शामिल हैं। जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी नंदन सिंह रजवार ने बताया कि घटना के बाद से सर्च अभियान जारी है। लगातार तेज बारिश हो रही है।

 

अन्य समाचार