मुख्यपृष्ठनए समाचारसंजय गांधी अस्पताल का लाइसेंस निलंबित करने के यूपी सरकार के आदेश...

संजय गांधी अस्पताल का लाइसेंस निलंबित करने के यूपी सरकार के आदेश पर हाईकोर्ट की रोक

मनोज श्रीवास्तव / लखनऊ
अमेठी के संजय गांधी अस्पताल के मामले में योगी सरकार को इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच से झटका लगा है। ओपीडी समेत सभी सेवाओं पर रोक लगाने के योगी सरकार के आदेश पर हाईकोर्ट ने रोक लगा दी है। सर्जरी के दौरान एक महिला की मौत के बाद अस्पताल का लाइसेंस निलंबित कर दिया गया था। इस कार्रवाई के खिलाफ अस्पताल की ओर से हाईकोर्ट में याचिका दाखिल की गई है। इससे पहले भी २७ सितंबर को भी हाईकोर्ट ने मामले पर सुनवाई की थी और सरकार से पूछा था कि जांच कब पूरी होगी। अस्पताल का लाइसेंस निलंबित होने के बाद से इस पर राजनीति भी तेज हो गई थी। भाजपा सांसद वरुण गांधी ़की नाराजगी के अलावा सपा और कांग्रेस ने भी इसे लेकर आंदोलन शुरू कर दिया था। अस्पताल के चार सौ से ज्यादा डॉक्टर और कर्मचारियों का भी धरना चल रहा है। वरुण गांधी ने भी इसे लेकर अपनी ही सरकार पर निशाना साधा था और स्वास्थ्य मंत्री बृजेश पाठक को पत्र लिखा था। अमेठी की जनता में भी इसे लेकर बहुत गुस्सा था। एक तरफ कांग्रेस आंदोलन करती है तो दूसरी तरफ सपा विधायक ने अपने समर्थकों के साथ कलेक्ट्रेट पहुंचकर प्रदर्शन किया था। अस्पताल खुलवाने से संबंधित ज्ञापन डीएम को सौपा था। एनएसयूआई ने भी प्रदर्शन करते हुए ज्ञापन एसडीएम को सौपा था। इन लोगों का आरोप था कि अस्पताल को शासन व प्रशासन के दबाव में प्राकृतिक न्याय एवं विधि व्यवस्था की अवहेलना करते हुए रजिस्ट्रेशन निरस्त कर दिया गया, जिससे क्षेत्र के आसपास की लगभग लाखों की संख्या में जनता चिकित्सा सुविधा को लेकर अत्यंत चिंतित व परेशान है।

अन्य समाचार