मुख्यपृष्ठनए समाचार‘हिंदूहृदयसम्राट बालासाहेब ठाकरे’ स्वास्थ्य केंद्रों के चलते मुंबईकरों की बनेगी ‘हेल्थ की...

‘हिंदूहृदयसम्राट बालासाहेब ठाकरे’ स्वास्थ्य केंद्रों के चलते मुंबईकरों की बनेगी ‘हेल्थ की कुंडली’!

• घर के पास पोर्टा केबिन में स्वास्थ्य केंद्र
• १०० लोगों का हो रहा नि:शुल्क इलाज
सामना संवाददाता / मुंबई
मुंबई में गरीबों के घरों के निकट नि:शुल्क और गुणवत्तापूर्ण इलाज की सुविधा मुहैया कराने के लिए मनपा द्वारा शुरू ‘हिंदूहृदयसम्राट बालासाहेब ठाकरे स्वास्थ्य केंद्र’ में हर दिन ७० से १०० लोग अपना इलाज करवा रहे हैं। इस स्वास्थ्य केंद्र की सबसे खास बात यह है कि यहां आनेवाले हर एक मरीज के स्वास्थ्य की संपूर्ण जानकारी ऑनलाइन जुटाई जा रही है। ऐसे में आगामी समय में इलाज और स्वास्थ्य योजनाओं के लिए यह जानकारी महज एक क्लिक पर मिल सकेगी। ऐसी जानकारी अतिरिक्त मनपा आयुक्त डॉ. संजीव कुमार ने दी।
मनपा स्वास्थ्य प्रणाली में प्राथमिक स्वास्थ्य सेवा के तहत २११ स्वास्थ्य केंद्र, १८९ दवाखाना, २७ प्रसूति अस्पताल, १६ उपनगरीय अस्पताल, ५ विशेष अस्पताल और तृतीयक स्वास्थ्य सेवाओं के तहत ४ मेडिकल कॉलेज, ५ अस्पताल और एक डेंटल कॉलेज है। यहां गुणवत्तापूर्ण और नि:शुल्क इलाज उपलब्ध होने के कारण मुंबई और राज्य समेत देश के कोने-कोने से गरीब मरीज इलाज कराने के लिए आते हैं। ऐसे में मनपा के बड़े अस्पतालों पर भार बढ़ जाता है। हालांकि अब ‘हिंदूहृदयसम्राट बालासाहेब ठाकरे’ स्वास्थ्य केंद्र की पहल के चलते मनपा के बड़े और उपनगरीय अस्पताल में प्राथमिक उपचारों के लिए होनेवाली भीड़ और तनाव कम होगा। बता दें कि मुंबई के १.३० करोड़ की आबादी में से ६० लाख लोगों को इस पहल का सीधे लाभ होगा।

ऐसे होगा लाभ
मुंबईकरों को उनके घरों के पास स्वास्थ्य सुविधाएं मिले और बीमारी के बिगड़ने से पहले इलाज मुहैया कराने के इरादे से बजट में मनपा ने ‘हिंदूहृदयसम्राट बालासाहेब ठाकरे’ स्वास्थ्य केंद्र शुरू करने का पैâसला लिया है। इसमें पहले चरण में १०० जबकि दूसरे चरण में और १०० स्वास्थ्य केंद्र शुरू किए जाएंगे। मनपा के अतिरिक्त आयुक्त डॉ. संजीव कुमार ने बताया कि फिलहाल वर्तमान में शुरू हुए स्वास्थ्य केंद्रों को मरीजों का अच्छा प्रतिसाद मिल रहा है। इसलिए आने वाले समय में आवश्यकतानुसार इन स्वास्थ्य केंद्रों को बढ़ाया जाएगा।

अन्य समाचार