मुख्यपृष्ठनए समाचारमुंबई के ऐतिहासिक : जीटीबी नगर का बुरा हाल ... रेलवे स्टेशन...

मुंबई के ऐतिहासिक : जीटीबी नगर का बुरा हाल … रेलवे स्टेशन पर यात्री सुविधाएं रामभरोसे

सामना संवाददाता / मुंबई
सेंट्रल रेलवे की हार्बर लाइन पर एक ऐतिहासिक स्थल जीटीबी नगर स्टेशन, अपने बिगड़ते बुनियादी ढांचे के कारण दैनिक यात्रियों की शिकायतों का सामना कर रहा है।  रोजाना लगभग ५०,००० लोगों की उपस्थिति और प्रतिदिन लगभग ४३० अप और डाउन टे्रनों की सेवा के साथ, स्टेशन की स्थिति यात्रियों के लिए चिंता का कारण बन गई है।
सबसे प्रमुख मुद्दा प्लेटफार्म की खस्ताहाल टाइलों के इर्द-गिर्द घूमता है। एक ऐसी समस्या जिसने कई यात्रियों को परेशान कर रखा है। स्टेशन से नियमित रूप से यात्रा करने वाले एक यात्री ने कहा, `कई टाइलें, विशेष रूप से प्लेटफार्म के किनारों पर टूटी हुई हैं, जिससे ट्रेनों में चढ़ने और उतरने में काफी असुविधा होती है।’
फुटओवर ब्रिज पर गंदगी
लैंडिंग फुट ओवर ब्रिज पर भारी मात्रा में कूड़ा-करकट बिखरा हुआ है, जिससे यात्रियों की परेशानी और बढ़ गई है। यात्री इस दृश्य से आश्चर्यचकित हो जाते हैं और ऐसे महत्वपूर्ण सार्वजनिक स्थान पर सफाई की अनदेखी पर अफसोस जताते हैं। इसके अलावा, कुर्ला की ओर शेड के ऊपर का कवर अपर्याप्त है, जिससे प्रत्येक ट्रेन के दो डिब्बों में यात्रियों को असुविधा होती है।
एक अन्य यात्री ने गंदे पानी की टंकी की ओर इशारा करने के साथ अपनी निराशा व्यक्त करते हुए कहा, `प्लेटफॉर्म पर पानी की टंकी को एक साल से अधिक समय से साफ नहीं किया गया है।’ यह सीधे तौर पर स्टेशन अधिकारियों की ओर से लापरवाही की ओर भी इशारा करता है। मेन और अन्य लाइनों पर रेगुलर यात्रा करने वाले सौरभ ने स्टेशन की खराब स्थिति पर निराशा व्यक्त की, उन्होंने कहा, `चिंता की बात तो यह है कि १० प्रतिशत से अधिक टाइलें टूट गई हैं। शेड के ऊपर के कवर की स्थिति दयनीय है, और यहां तक कि कुर्ला की तरफ बुकिंग हॉल की छत भी जर्जर है।’ स्वच्छता का मुद्दा शौचालयों तक भी पैâला हुआ है। कुर्ला की ओर यात्री शौचालयों के काम न करने की समस्या से जूझ रहे हैं, जिससे उन्हें पनवेल की ओर सुविधाओं तक लगभग २५० मीटर चलने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है।
यात्रियों की सुविधा के लिए अधिकारी दें ध्यान
जीटीबी नगर स्टेशन पर खस्ताहाल बुनियादी स्ट्रक्चर को सुधारने के लिए अधिकारियों को सक्रिय कदम उठाने की तत्काल आवश्यकता है। इसके अलावा ऐतिहासिक महत्व और बड़ी संख्या में यात्रियों की सेवा में इसकी महत्वपूर्ण भूमिका के साथ, यह जरूरी है कि इस स्टेशन की कार्यक्षमता, सुरक्षा और सफाई की स्थिति दुरुस्त करने के लिए बड़ा कदम उठाया जाए।

अन्य समाचार