मुख्यपृष्ठसमाचार‘तेरे मेरे बीच में कैसा है ये बंधन’! समुद्र किनारे एकदूजे के...

‘तेरे मेरे बीच में कैसा है ये बंधन’! समुद्र किनारे एकदूजे के गले मिली छिपकलियां

किसी भावना विहीन शख्स को देखकर हम उसे ताना मार देते हैं कि वो बिल्कुल जानवर है। अमूमन एक धारणा है कि जानवरों में भावनाएं नहीं होतीं लेकिन कैमरे में ऐसी न जाने कितनी ही तस्वीरें कैद हैं जो यह साबित करती हैं कि जानवरों में न सिर्फ भावनाएं होती हैं, बल्कि वो प्यार जताना और पाना भी चाहते हैं। ममता, प्यार, दुलार का एहसास वो बखूबी समझते हैं। एक वीडियो में समंदर किनारे छिपकली की प्रजाति के दो बड़े जानवर एक दूसरे को गले लगते दिखे। लहरें आती-जाती रहीं लेकिन इन्होंने एक दूसरे का साथ नहीं छोड़ा। वीडियो पर कैप्शन  दिया गया ‘तेरे मेरे बीच में कैसा है ये बंधन’? जानवरों में भावनाएं होती हैं वे हमारे सम्मान और सहानुभूति के पात्र हैं। समुद्र किनारे गले लगते दो जानवरों का वीडियो सोशल मीडिया पर शेयर होने के बाद लोगों ने इसे खूब पसंद किया और ये भी माना कि जानवर प्यार करना और जताना दोनों बखूबी समझते हैं और जानते भी है। भावनाओं की कद्र करना भी उन्हें आता है। जानवरों के बीच का प्यार लोगों को इमोशनल कर गया। वहीं बहुत से लोग ऐसे भी हैं जिन्होंने इस वीडियो की तुलना प्यार से नहीं बल्कि झगड़े से की। कुछ यूजर्स ऐसे हैं जिन्होंने कहा कि झगड़े के बाद का ये शांति प्रस्ताव था। तो कुछ यूजर्स ने इस वीडियो को झगड़े के बीच का ब्रेक टाइम बताया। वहीं एक यूजर ने लिखा कि ‘यहां मनुष्यों की भावनाओं की कदर ही नहीं होती है’।
‘जानवरों में भी होती हैं भावनाएं’
वीडियो कहां का है, ये तो नहीं पता लेकिन इतना जरूर पता है कि ये दोनों जानवर एक-दूसरे से तहेदिल से जुड़े हुए हैं। जिस तरह से दोनों ने एक-दूसरे को गले लगाकर थाम रखा है उससे इनके बीच की बॉन्डिंग साफ नजर आ रही है। तेज लहरों के थपेड़े भी इन्हें जुदा करने में कामयाब नहीं हो पा रहे। ऐसे में इसे एक-दूसरे के प्रति गहरी फीलिंग्स और प्यार न कहे तो और क्या कहें यानी साफ हो गया कि जानवरों में भी भावनाएं होती हैं।

अन्य समाचार