मुख्यपृष्ठअपराधकितने शाहरुख, कितने अरमान, दुमका में कई हैं हैवान!

कितने शाहरुख, कितने अरमान, दुमका में कई हैं हैवान!

  • आदिवासी लड़की का शव पेड़ से लटकाया

सामना संवाददाता / दुमका
झारखंड के दुमका जिले में १४ वर्षीय आदिवासी लड़की का शव पेड़ से लटकाने के मामले में राजनीति तेज हो गई है। पहले अंकिता सिंह हत्याकांड, फिर एक नाबालिग पर एसिड अटैक, और अब नाबालिग लड़की का शव पेड़ से लटकाने का मामला सामने आने के बाद अब लोगों के मुंह से एक ही आवाज उठने लगी है कि दुमका में कई हैवान हैं जहां कितने शाहरुख और कितने अरमान पैदा हो गए हैं। इधर बाबूलाल मरांडी ने पूरे मामले की जांच एनआईए से कराने की मांग की है। उन्होंने कहा कि यह केवल मर्डर नहीं इसके पीछे गहरी साजिश है। जानकारी के अनुसार दुमका जिले में १४ वर्षीय आदिवासी लड़की का शव पेड़ से लटकाने के मामले सामने आया है। मामले में परिजन ने एक युवक पर शादी का झांसा देकर लड़की का यौन शोषण करने का आरोप लगाया है। पुलिस ने बताया कि नाबालिग की मां ने आरोप लगाया कि शुक्रवार को मुफस्सिल थाना क्षेत्र के एक इलाके में उसकी बेटी के साथ दुष्कर्म किया गया और हत्या कर शव पेड़ से लटका दिया गया। परिजनों के आरोप पर पुलिस ने युवक अरमान अंसारी को गिरफ्तार किया।
नाराज ग्रामीणों ने जाम की सड़क
बता दें कि दोपहर बाद ही लड़की का शव उसके परिजनों को सौंप दिया गया। शाम में एंबुलेंस से शव रानेश्वर प्रखंड क्षेत्र स्थित उसके गांव में पहुंचा तो माहौल गमगीन हो गया। गांव की बेटी के साथ दुष्कर्म कर उसकी हत्या कर दिए जाने से ग्रामीणों में काफी नाराजगी है। स्थानीय लोगों ने विरोध में दुमका-सिउड़ी मुख्य पथ को थोड़ी देर के लिए जाम किया पर प्रशासनने समझा-बुझाकर हटा दिया। उसके बाद शव का अंतिम संस्कार किया गया। नाराज लोगों ने हत्यारे को गिरफ्तार कर फांसी की सजा दिलाने की मांग की है।
मुस्तफा को लेकर मरांडी ने किए सवाल
इस मामले को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने कहा कि खबरों में बताया गया है कि रोंगटे खड़े करने वाले अंकिता हत्याकांड में नाबालिग को बालिग बताकर अभियुक्त शाहरुख का बचाव का प्रयास करने वाले संथालों के दुश्मन को भी कड़ी सजा मिलनी चाहिए।

एनआईएस से होनी चाहिए जांच
दुमका की एक बेटी को पेट्रोल से जिंदा जला कर हत्या देने की घटना में शाहरुख और अरमान की संलिप्तता सामने आने के बाद से ही सियासत गर्म है। शनिवार को अब एक आदिवासी लड़की के साथ दुष्कर्म कर उसकी हत्या कर देने की घटना ने आग में घी का काम किया है। जैसे ही यह बात सामने आई कि शुक्रवार को जिस किशोरी का शव पेड़ से टंगा मिला था,वह एक गरीब आदिवासी लड़की है और दुष्कर्म के बाद उसकी हत्या करने का आरोपी अरमान नाम का एक राजमिस्त्री है। इधर भाजपा के बड़े नेता ट्वीट और रि-ट्वीट कर रहे हैं। सांसद डॉ. निशिकांत दुबे ने कहा कि पहले शाहरुख फिर अमानत अली और अब अरमान अंसारी ये सब भारत के नहीं होंगे। जरूर उस पार से आए होंगे। इसकी जांच एनआईएस से होनी चाहिए।

अन्य समाचार