मुख्यपृष्ठनए समाचारभ्रष्टाचारी ठेकेदार को कितनी निधि दी : स्ट्रीट फर्नीचर घोटाले की जांच...

भ्रष्टाचारी ठेकेदार को कितनी निधि दी : स्ट्रीट फर्नीचर घोटाले की जांच का क्या हुआ? – आदित्य ठाकरे का आयुक्त से सीधा सवाल

सामना संवाददाता / मुंबई
मुंबई महानगरपालिका में स्ट्रीट फर्नीचर घोटाले का पर्दाफाश हमने किया। इसके चलते सरकार ने इस ठेके को रद्द कर दिया, लेकिन इस घोटाले की जांच का वास्तव में क्या हुआ? भ्रष्टाचारी ठेकेदार को अब तक कितनी निधि दी गई? इस तरह का सीधा सवाल शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) नेता, युवासेनाप्रमुख, विधायक आदित्य ठाकरे ने उपस्थित किया है। इसे लेकर उन्होंने मनपा आयुक्त व प्रशासक इकबाल सिंह चहल को पत्र लिखकर घोटाले की जांच के बारे में सवाल पूछा है।
मुंबई महानगरपालिका के स्ट्रीट फर्नीचर परियोजना में २६३ करोड़ का घोटाला होने का आरोप लगाते हुए आदित्य ठाकरे ने इस मामले की जांच की मांग की थी। इसे लेकर १ जुलाई को शिवसेना द्वारा महानगरपालिका पर निकाले गए प्रचंड मोर्चे के दौरान भी उन्होंने मनपा से सवाल पूछा था। इसके बाद हाल ही में हुए मानसून सत्र के दौरान सरकार ने इस ठेके को रद्द करने की घोषणा की थी। हालांकि, ठेका रद्द किया या स्थगित किया, इसे लेकर सरकार द्वारा स्पष्ट भूमिका रखी जाए और इस मामले की गहन जांच की जाए, ऐसी मांग करते हुए राज्यपाल रमेश बैस को भी पत्र लिखा था। गहन जांच होने पर घाती सरकार बेनकाब हो जाएगी इसीलिए इस ठेके को रद्द किए जाने का आरोप भी आदित्य ठाकरे ने इस दौरान लगाया था। इस बीच इस घोटाले की जांच का क्या हुआ, ऐसा सवाल आदित्य ठाकरे ने फिर से आयुक्त को पत्र लिखकर उठाया है।
इन सवालों का जवाब दो
स्ट्रीट फर्नीचर घोटाले की जांच कहां तक पहुंची है?
अब तक किस-किस की जांच हुई?
भ्रष्टाचारी ठेकेदार को कितनी निधि दी और कितनी देंगे?
  इस जांच की रिपोर्ट कब तक आएगी?

अन्य समाचार