मुख्यपृष्ठनए समाचारकिचन किंग बन रहे पति! ...७४ फीसदी पुरुष दे रहे पत्नी का...

किचन किंग बन रहे पति! …७४ फीसदी पुरुष दे रहे पत्नी का साथ

• खाना पकाने में बंटाते हैं हाथ
• सर्वे में आई जानकारी सामने
सामना संवाददाता / मुंबई
कोरोना महामारी के दौरान घरों में फास्ट फूड की खपत अधिक हुई। इसी दौरान घर में बैठे पुरुषों ने भी किचन में महिलाओं का हाथ बंटाना शुरू कर दिया और अब पति इस परंपरा को जारी रखते हुए किचन किंग बनने की होड़ में हैं। एक सर्वे के मुताबिक ७४ प्रतिशत विवाहित पुरुष सप्ताह में कम से कम चार से पांच बार खाना पकाने में अपनी पत्नी का हाथ बंटाते हैं। कोरोना के दौरान या कोरोना के बाद पहली बार खाना पकाने के लिए ६६ प्रतिशत पतियों ने किचन में प्रवेश किया। सर्वे में शामिल ९३ प्रतिशत लोगों का मानना था कि परिवार के सदस्यों के साथ मिलकर खाना पकाने से आपसी मेलजोल और प्यार को बढ़ावा मिला है। ये सर्वे इमामी मंत्रा मसाला ने उपभोक्ताओं के व्यवहार संबंधी ट्रेंड्स को समझने के लिए किया है।

ये सर्वे मुंबई सहित देश के १० शहरों में किया गया। १,००० घरों में किए गए इस सर्वे में ३५ साल की उम्र के पुरुषों एवं महिलाओं ने हिस्सा लिया। सर्वे की रिपोर्ट के अनुसार कोरोना से पहले की तुलना में अब ९७ प्रतिशत परिवार खाना पकाने के लिए स्वास्थ्यवर्धक सामग्रियों का इस्तेमाल कर रहे हैं। सर्वे में शामिल ९५ प्रतिशत परिवारों का कहना है कि कोरोना के बाद उनके घर के बने खाने में विविधता आई है। ९२ प्रतिशत लोगों ने संकेत दिया कि वह मसालों की अलग-अलग किस्मों का ज्यादा प्रयोग कर रहे हैं। सर्वे से ८८ प्रतिशत घरों के लोग अब ताजे फल और सब्जियां ज्यादा खाने लगे हैं। ५३ प्रतिशत घरों में प्रâोजन फूड, ७४ प्रतिशत घरों में रेडी टू कुक प्रोडक्ट्स की खपत बढ़ गई है। ६५ प्रतिशत घरों ने बताया कि उनके यहां कुकिंग सॉसेज और पेस्ट की खपत बढ़ गई है। ७० प्रतिशत घरों ने जानकारी दी कि उनके यहां पिसे हुए मसालों के पैकेट की खपत बढ़ी है।

अन्य समाचार