मुख्यपृष्ठनए समाचारखून तुझे भेजा है खत में!...पुलिस ने रोका तो बिफरे महंत यति...

खून तुझे भेजा है खत में!…पुलिस ने रोका तो बिफरे महंत यति नरसिंहानंद

सामनना संवाददाता / गाजियाबाद

गाजियाबाद के डासना देवी मंदिर के महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती सीएम योगी आदित्यनाथ से मिलने के लिए निकले। इस दौरान पुलिस ने उन्हें रोक लिया। इसके बाद महंत ने पुलिस को आड़े हाथ लिया। रोके जाने से नाराज महंत ने स्थानीय पुलिस को जमकर खरी-खोटी सुनाई। उन्होंने सूबे के मुखिया पर भी कटाक्ष किया कि सत्ता किसी की नहीं रहती है।
दरअसल, महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती बीती २७ तारीख को मेरठ के खजुरी गांव जाना चाहते थे। वहां एक साल पहले दीपक त्यागी की हत्या कर दी गई थी। मगर, स्थानीय पुलिस और मेरठ पुलिस ने उन्हें डासना मंदिर में ही रोक दिया। इससे वो बरसी के कार्यक्रम में नहीं जा पाए। इसको लेकर उन्होंने अपने खून से एक शिकायत पत्र सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ को लिखा था। वो पैदल यात्रा करके गाजियाबाद से लखनऊ सीएम योगी आदित्यनाथ को खून से लिखा पत्र सौंपने जाना चाहते थे। मगर, सुरक्षा कारणों का हवाला देकर पुलिस ने उन्हें इस बार भी रोक दिया। इसके बाद महंत बिफर पड़े। गुस्से में सीएम योगी और पीएम मोदी पर भी टिप्पणी की। नाराज महंत ने कहा कि उन्होंने मुलायम, मायावती और अखिलेश का कार्यकाल देखा है। कभी पुलिस से नहीं रुके। मगर आज जब हमारे ही योगी आदित्यनाथ मुख्यमंत्री हैं तो उन्हें पुलिस रोक रही है।

अन्य समाचार