मुख्यपृष्ठटॉप समाचारअच्छे-अच्छों को सीधा करने की मुझमें है ताकत!... शरद पवार की तूफानी...

अच्छे-अच्छों को सीधा करने की मुझमें है ताकत!… शरद पवार की तूफानी फटकेबाजी

सामना संवाददाता / मुंबई

मैं अभी तक बूढ़ा नहीं हुआ हूं। अभी भी मैं अच्छे-अच्छों को सीधा करने की ताकत रखता हूं। इन शब्दों के साथ राकांपा अध्यक्ष शरद पवार ने तूफानी फटकेबाजी की। इसके बाद राजनीतिक गलियारों में चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है कि आखिरकार उनका निशाना किसकी तरफ था।
पुणे के खेड़ तहसील में बैलगाड़ी दौड़ प्रायोगिता का आयोजन किया गया था। इस कार्यक्रम में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार उपस्थित थे। इस दौरान शरद पवार ने कहा, ‘कुछ नेता और कार्यकर्ता अपने सभी भाषणों में उल्लेख करते हैं कि मैं ८२ वर्ष का हो गया, मैं ८३ वर्ष का हो गया।’ उन्होंने कहा कि अभी आपने मेरा क्या देखा? उन्होंने मजाकिया लहजे में कहा कि मैं अभी बूढ़ा नहीं हुआ हूं। अभी मुझमें कई वजनदार लोगों को सीधा करने की ताकत है। आप चिंता मत करो। तुम्हारे जो भी दर्द हैं, उस दर्द को दूर करने के लिए जो करना पड़ेगा वो सब करूंगा और नया इतिहास रचूंगा। इस तरह का विश्वास भी शरद पवार ने जताया। दूसरी तरफ शरद पवार के इस बयान के बाद राजनीतिक गलियारों में चर्चा शुरू हो गई है कि उन्होंने इस बयान में आखिर किस पर निशाना साधा है?
राकांपा छोड़ने के बाद अजीत पवार ने बयान दिया था कि उन्हें अब घर बैठ जाना चाहिए, उनकी उम्र हो गई है। साथ ही अजीत पवार गुट के कई नेता शरद पवार की उम्र का भी जिक्र करते हैं। इसलिए राजनीतिक गलियारों में यह चर्चा है कि शरद पवार का निशाना सीधे तौर पर अजीत पवार की तरफ, था अथवा किसी और पर इसे लेकर तरह-तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं।

अन्य समाचार