मुख्यपृष्ठनए समाचाररोऊंगा नहीं, लड़ूंगा! संजय राऊत ने दिया संघर्ष का नारा

रोऊंगा नहीं, लड़ूंगा! संजय राऊत ने दिया संघर्ष का नारा

सामना संवाददाता / मुंबई
शिवसेना नेता व सांसद संजय राऊत ने प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा की गई कार्रवाई के बाद उन्हें समर्थन देनेवाले कांग्रेस और मित्र दलों का आभार माना है। संजय राऊत ने इस संबंध में एक पत्र लिखा है और समर्थन देनेवाली सभी पार्टियों के प्रति आभार व्यक्त किया है। हिंदूहृदयसम्राट शिवसेनाप्रमुख बालासाहेब ठाकरे ने हमेशा सिखाया है कि ‘रोने का नहीं, लड़ने का’। हम उसी सिद्धांत के साथ काम कर रहे हैं और इस तरह की कार्रवाइयों से डरे बिना हम लड़ते रहेंगे, ऐसा सांसद राऊत ने अपने पत्र में लिखा है।
मुश्किल घड़ियों में ही सच्चे और वफादार मित्र की पहचान होती है। वेंâद्र सरकार ने राजनीतिक हेतु से जांच एजेंसियों के माध्यम से मेरे खिलाफ जो कार्रवाई की तो सभी मित्र दलों ने मेरा समर्थन किया। खासकर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ट्वीट कर इस कार्रवाई की निंदा की थी। इसके आगे भी हम पर इस प्रकार की कार्रवाई होती रहेगी और दबाव आते रहेंगे। लेकिन किसी भी दबाव के आगे न झुकते हुए सच्चाई के लिए मेरी लड़ाई जारी रहेगी, ऐसा संजय राऊत ने अपने पत्र में लिखा है। उन्होंने यह भी विश्वास व्यक्त किया है कि शिवसेनाप्रमुख बालासाहेब ठाकरे की सीख, शिवसेनापक्षप्रमुख उद्धव ठाकरे, मेरे परिवार और शुभचिंतकों के समर्थन से जल्द ही इस कठिन समय से बाहर निकलेंगे।
मल्लिकार्जुन खरगे को लिखा पत्र
संजय राऊत द्वारा कांग्रेस सांसद मल्लिकार्जुन खरगे को लिखे गए इस पत्र को शिवसेना सांसद प्रियंका चतुर्वेदी ने कल जारी किया। कांग्रेस, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी, तृणमूल कांग्रेस, द्रमुक, ‘आप’, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी और माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी सहित विपक्षी दलों को उनके समर्थन के लिए सांसद संजय राऊत ने अपने पत्र में आभार माना है।

अन्य समाचार