मुख्यपृष्ठअपराधसमय से नहीं आए डॉक्टर तो अधीक्षक की गई जान

समय से नहीं आए डॉक्टर तो अधीक्षक की गई जान

सामना संवाददाता / पनवेल
सीमा शुल्क विभाग अधीक्षक रवि राज की कल रात हार्ट अटैक से मौत हो गई थी। अब उनकी पत्नी ने आरोप लगाया है कि उनकी मौत डॉक्टर के समय पर नहीं आने की वजह से हुई है। उन्होंने बताया कि रवि को कल रात करीब ३ बजे सीने में दर्द होने की शिकायत के बाद कामोठे के मेडीसिक्योर अस्पताल में भर्ती कराया था। उस वक्त वहां मौजूद डॉक्टरों ने उनकी जांच की और मुख्य डॉक्टर को फोन करके जानकारी देकर अस्पताल बुलाया लेकिन मुख्य डॉक्टर लगभग २ घंटे के बाद अस्पताल पहुंचे, इस बीच उनकी मौत हो गई।
उनका कहना है कि मुख्य डॉक्टर को कई बार फोन करने के बाद मरीज की स्थिति बिगड़ती गई। इस बीच वहां मौजूद डॉक्टरों ने न तो किसी भी प्रकार का इलाज किया और न ही उन्हें दूसरे अस्पताल ले जाने की सलाह दी। वो बार-बार ये कहते रहे कि मुख्य डॉक्टर कुछ ही समय में आ जाएंगे, उसके बाद इलाज शुरू किया जाएगा। इस बीच वहां पर सीमा शुल्क विभाग के कई अन्य अधिकारी और कर्मचारी जमा हो गए थे और उन्होंने अस्पताल प्रशासन पर कार्रवाई की मांग करते हुए शव को लेने से इनकार कर दिया था। स्थिति खराब होते देख वहां पर कामोठे पुलिस ने पहुंचकर सबको शांत करवाया और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया । पुलिस अधिकारियों ने कहा कि हम पूरे मामले की जांच कर रहे हैं और पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के असली कारणों के बारे में पता चलेगा। इस मामले में फिलहाल अस्पताल प्रशासन कुछ भी बोलने के लिए तैयार नहीं है।

अन्य समाचार