मुख्यपृष्ठनए समाचारगृह विभाग नहीं संभाला जाता तो हमें दे दो, हम चलाकर दिखाते...

गृह विभाग नहीं संभाला जाता तो हमें दे दो, हम चलाकर दिखाते हैं!..सुषमा अंधारे ने फडणवीस की उड़ाई खिल्ली

सामना संवाददाता / मुंबई

पुणे की एक दुर्घटना ने राज्य सरकार के अलग-अलग विभागों के खोखले कारोबार और भ्रष्टाचार की पोल खोलकर रख दी है। यह बात देवेंद्र फडणवीस को भी स्वीकार कर लेनी चाहिए, ऐसा तंज शिवसेना (उद्धव बालासाहेब ठाकरे) उपनेता सुषमा अंधारे ने फडणवीस पर कसा।
पुणे के कल्याणीनगर में हुए हादसे को लेकर महाविकास आघाड़ी के नेताओं ने सरकार के खिलाफ आक्रामक रुख अपना लिया है। इस घटना पर एक बार फिर उपमुख्यमंत्री और राज्य के गृहमंत्री देवेंद्र फडणवीस को चुनौती देते हुए शिवसेना उपनेता सुषमा अंधारे ने तंज कसते हुए कहा कि यदि सब हमें ही करना है तो गृह विभाग हमारे हवाले कर दो, वैâसे विभाग चलाया जाता है, हम चलाकर दिखाते हैं।
सुषमा अंधारे ने आगे कहा कि जब संजय राठौड़ कैबिनेट मंत्री थे, तब उन पर आरोप लगते ही संजय राठौड़ से इस्तीफा ले लिया गया। वहीं अनिल देशमुख को परमबीर सिंह द्वारा लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोपों के बाद हिरासत में भेज दिया गया, जो साबित भी नहीं हुए थे। उन्होंने कहा कि हमारे द्वारा लगाए गए आरोप को ४८ घंटे हो गए हैं। इन ४८ घंटों में शंभूराज देसाई का कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। वे इन आरोपों पर आधिकारिक बयान क्यों नहीं दे रहे हैं? उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि उक्त मामले में गृहमंत्री का बयान क्यों नहीं आया? उन्होंने कहा कि दुर्घटनाएं बहुत होती हैं, लेकिन इस एक दुर्घटना के कारण सरकार के विभिन्न विभागों में भ्रष्टाचार और कुप्रबंधन से ग्रस्त पूरी व्यवस्था का पर्दाफाश हो गया है। यह बात फडणवीस को स्वीकार करनी होगी।

अन्य समाचार