मुख्यपृष्ठनए समाचारनहीं है पीयूसी तो लगेगा दंड! ...६७ वाहनों पर दंडात्मक कार्रवाई

नहीं है पीयूसी तो लगेगा दंड! …६७ वाहनों पर दंडात्मक कार्रवाई

सामना संवाददाता / ठाणे
कोर्ट ने मुंबई और ठाणे जैसे शहरों में बढ़ते वायु प्रदूषण से निपटने के लिए तत्काल कदम उठाने का निर्देश दिया है। तदनुसार, ठाणे क्षेत्रीय परिवहन विभाग (आरटीओ) ने काम करना शुरू कर दिया है। विभाग ने शहर में पीयूसी केंद्रों पर छापा मारकर जांच करना शुरू कर दिया है, वहीं पिछले नौ दिनों से वाहनों का पीयूसी जांच अभियान भी चलाया गया है। इसमें ६७ वाहनों पर ८८ हजार रुपए जुर्माने की कार्रवाई की गई है।
बता दें कि हवा में वायु प्रदूषण का स्तर बढ़ गया है। ऐसे में यदि समय रहते इसका समाधान नहीं खोजा गया तो यह एक बड़ी चिंता का विषय बन सकता है। इसलिए ठाणे क्षेत्रीय परिवहन विभाग वाहन उत्सर्जन से होनेवाले प्रदूषण को रोकने के लिए सतर्कता बरतना शुरू कर दिया है। पीयूसी केंद्र ने वाहन के साथ एक निरीक्षण अभियान शुरू किया है। उप क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी जयंत पाटील के मार्गदर्शन में १ से ९ नवंबर तक ठाणे शहर में वाहनों के पीयूसी निरीक्षण में पाया गया कि ६७ वाहनों में पीयूसी नहीं है। सहायक क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी प्रसाद नलावडे ने बताया कि दोषी वाहन मालिकों को पीयूसी चालान देकर ८८ हजार का जुर्माना वसूला गया है।
क्या कहता है आरटीओ प्रशासन!
‘कुछ लोग इसे नजरअंदाज कर रहे हैं और धड़ल्ले से ट्रैफिक नियम तोड़ रहे हैं। ऐसे वाहन के खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई की जा रही है और वाहनचालकों और मालिकों को तुरंत वाहन का पीयूसी प्रमाणपत्र प्राप्त करना चाहिए।’
(जयंत पाटील, उपक्षेत्रीय परिवहन अधिकारी, ठाणे)

अन्य समाचार