मुख्यपृष्ठनए समाचारमणिपुर में शांति है तो वहां करवाएं जी-२० की बैठक! -अखिलेश ने...

मणिपुर में शांति है तो वहां करवाएं जी-२० की बैठक! -अखिलेश ने साधा भाजपा पर निशाना

सामना संवाददाता / लखनऊ
मणिपुर में पिछले तीन महीने से हिंसा जारी है। मैतेई समुदाय के लिए आरक्षण के मुद्दे पर शुरू हुई हिंसा में १०० से अधिक लोग मारे गए और कई महिलाओं को अपमानित होना पड़ा। यह अपमानजनक वीडियो सोशल मीडिया पर भी वायरल हो गया। मणिपुर जल रहा है, इसके बावजूद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि वहां शांति है। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने इस बात को लेकर भाजपा पर निशाना साधा है। अखिलेश ने कहा है कि यदि मणिपुर में शांति है तो वहां जी-२० की बैठक करवाएं।
सपा अध्यक्ष ने कहा कि दिल्ली में जी-२० बैठक की मेजबानी में कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन मणिपुर एक बड़ी समस्या है। सरकार कह रही है कि मणिपुर में हालात ठीक है, फिर उन्हें मणिपुर में जी-२० की बैठक आयोजित करनी चाहिए और साबित करना चाहिए कि वहां वास्तव में शांति है। अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर भी हमला बोला। उत्तर प्रदेश यातायात विभाग में नई भर्ती से दुर्घटनाओं में वृद्धि हुई है। आए दिन यूपी में कहीं न कहीं आवारा सांड की वजह से एक सांड की मौत हो रही है, लेकिन उन्होंने चिढ़ाया कि सरकार उन्हें नंदी मानती है। उन्होंने भारत के मोर्चे पर भी टिप्पणी की। गठबंधन में शामिल सभी दल अपने-अपने राज्यों में मजबूत हैं। जगह आवंटन का कोई सवाल ही नहीं है। अखिलेश यादव ने यह भी कहा कि हमारा पहला लक्ष्य केंद्र सरकार को हराना है।

अन्य समाचार

लालमलाल!