मुख्यपृष्ठनए समाचारवोट देना है तो दो, माल-पानी नहीं मिलेगा! ...गडकरी ने साफ किया...

वोट देना है तो दो, माल-पानी नहीं मिलेगा! …गडकरी ने साफ किया अपना लोकसभा चुनाव का एजेंडा

सामना संवाददाता / मुंबई
लोकसभा चुनाव से पहले केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने बड़ा एलान किया है। गडकरी ने कहा कि वो इस लोकसभा चुनाव में अपने इलाके में बैनर-पोस्टर नहीं लगाएंगे। किसी को चाय-पानी का इंतजाम भी नहीं करेंगे। उन्होंने साफ कहा कि मैं लोगों की ईमानदारी से सेवा करूंगा, लेकिन मैं न खाऊंगा और न किसी को खाने दूंगा।
शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री गडकरी महाराष्ट्र के वाशिम जिले में सीमेंट कंक्रीट से बनी सड़क का उद्घाटन करने आए थे। यहां उन्होंने कार्यक्रम को संबोधित किया और आगामी लोकसभा चुनाव के बारे में बड़ा एलान कर दिया। नितिन गडकरी ने कहा, ‘मैंने इस लोकसभा चुनाव में सोच लिया है कि बैनर-पोस्टर नहीं लगाएंगे। चाय-पानी भी नहीं करवाएंगे। वोट देना है तो दो… नहीं तो मत दो।
बेबाक बयानबाजी के लिए जाने जाते हैं गडकरी
नितिन गडकरी अपनी बेबाक बयानबाजी के लिए जाने जाते हैं। अक्सर देखा गया है कि वो अपने विभाग से संबंधित कामों को लेकर अलर्ट रहते हैं। यहां तक कि खुले मंच पर कहते हैं कि मैं गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं करता हूं। अच्छी तरह से काम करना चाहिए। इतना ही नहीं, गडकरी को ठेकेदारों का बचाव करते भी देखा जाता है। हाल ही में उन्होंने वाशिम में एक कार्यक्रम में कहा था, ठेकेदारों को परेशान न करें। मैं वाशिम जिले के सभी विधायकों, सांसदों और अधिकारियों से अनुरोध करता हूं, मैं ठेकेदार पर दबाव डालूंगा और काम करवाऊंगा, लेकिन कृपया ठेकेदार को परेशान न करें। लेकिन अगर सड़क टूटी तो बुलडोजर से तोड़ दूंगा। इस तरह की चेतावनी भी गडकरी ने ठेकेदारों को दी थी।

‘मैं न खाऊंगा, न खाने दूंगा’
गडकरी ने आगे कहा, ‘तुमको (वोटर्स को) माल-पानी भी नहीं मिलेगा। लक्ष्मी (पैसे) दर्शन नहीं होंगे। देसी-विदेशी (शराब) नहीं मिलेगी। मैं पैसा खाऊंगा भी नहीं और खाने भी नहीं दूंगा। लेकिन तुम्हारी सेवा ईमानदारी से करूंगा, यह विश्वास करिए।

अन्य समाचार