मुख्यपृष्ठसमाचारबीएचयू में रोजा इफ्तार पार्टी को लेकर बवाल... कुलपति का फूंका पुतला,...

बीएचयू में रोजा इफ्तार पार्टी को लेकर बवाल… कुलपति का फूंका पुतला, सामूहिक हनुमान चालीसा का हुआ पाठ

उमेश गुप्ता / वाराणसी। काशी हिंदू विश्वविद्यालय के महिला महाविद्यालय में आयोजित रोजा इफ्तार पार्टी को लेकर हंगामा खड़ा हो गया। इस पार्टी में कुलपति के शामिल होने के विरोध में छात्रों के एक गुट ने एबीवीपी के बैनर तले जहां बुधवार को कुलपति का पुतला फूंका तो गुरुवार को कुलपति आवास के सामने हनुमान चालीसा का पाठ भी किया गया। इस दौरान बड़ी संख्या में उपस्थित छात्रों ने जमकर जय हनुमान के नारे लगाए और कुलपति आवास की ओर देखते हुए सामूहिक रूप से हनुमान चालीसा का पाठ किया।
अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के सदस्यों का कहना है कि यदि वैंâपस में इफ्तार पार्टी हो सकती है तो फिर हनुमान चालीसा क्यों नहीं? इस दौरान एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने कहा कि यह नई परंपरा शुरू की गई है। हम इसका सख्त विरोध करते हैं। उधर बीएचयू प्रशासन का कहना है कि विश्वविद्यालय का शैक्षणिक व सद्भावपूर्ण वातावरण बिगाड़ने की कोशिश निंदनीय है। यहां पर आज से नहीं, बल्कि बीते कई साल से इफ्तार पार्टी महिला महाविद्यालय में होती आ रही है, जिसमें कुलपति शरीक होते हैं। बीते दो सालों से कोविड के चलते कुलपति इफ्तारी दावत में शामिल नहीं हो सके थे। बीएचयू प्रशासन ने कहा कि विश्वविद्यालय शिक्षा की गुणवत्ता, शोध, अनुसंधान और अपनी समग्रता के लिए वैश्विक ख्याति प्राप्त है। महामना ने जिन मूल्यों के साथ विश्वविद्यालय को स्थापित किया उनका अनुसरण करते हुए विश्वविद्यालय में विभिन्न त्योहारों और उत्सवों का आयोजन होता है। इसमें विश्वविद्यालय परिवार के सदस्य आपसी प्रेम और सद्भाव के साथ उत्साहपूर्वक शामिल होते हैं। बीएचयू परिवार के मुखिया के रूप में कुलपति जब भी परिसर में उपलब्ध होते हैं, इस कार्यक्रम में शामिल होते हैं और विद्यार्थियों का उत्साहवर्धन करते हैं। पहले भी कई बार कुलपतियों ने इस कार्यक्रम में विद्यार्थियों के साथ बैठकर इफ्तार किया है।

अन्य समाचार