मुख्यपृष्ठनए समाचारआरे के जंगल में उग रहे हैं अवैध चर्च और मस्जिदें!... ईडी...

आरे के जंगल में उग रहे हैं अवैध चर्च और मस्जिदें!… ईडी सरकार योग निंद्रा में

सामना संवाददाता / मुंबई
ईडी सरकार जहां एक ओर पर्यावरण को संरक्षण प्रदान करने के लिए हरियाली का जतन कर रही है, जिससे पर्यावरण संतुलन बना रहे। सरकार पर्यावरण संतुलन के जतन के लिए लगातार पानी की तरह रुपए बहाकर वृक्षारोपण एवं जागरूकता अभियान चला रही है। वहीं दूसरी ओर आरे में वन विभाग की उदासीनता के चलते वन माफिया बेखौफ होकर हरियाली पर आरी चला रहे हैं। यानी पेड़ों को काटकर जंगल में अवैध रूप से मस्जिद और चर्च कुकुरमुत्तों की तरह उग रहे हैं। इसके बावजूद ईडी सरकार योग निंद्रा में सोई हुई है।
गोरेगांव स्थित आरे जंगल का एक वीडियो जमकर वायरल हो रहा है। जिसमें जंगल में पेड़ों की कटाई पर बैन होने के बावजूद दर्जनों की संख्या में पेड़ों को नष्ट कर चर्च और मस्जिद दिखाई दे रहे है।
वन माफियाओं के आगे लाचार सरकार
क्रिमिनोलॉजिस्ट एड. स्नेहिल ढाल ने बताया कि जंगल को बचाने के लिए सरकार अपने बजट से करोड़ों रुपए वन विभाग को देती है, जिससे दिनों-दिन कम हो रहे जंगल बच सकें। परंतु आरे में इसके विपरीत वन माफियाओं को न तो वन विभाग का खौफ है और न ही कानून का डर है। इस क्षेत्र के लोगों का कहना है कि धड़ल्ले से पेड़ों को नष्ट करके भूमाफिया वन विभाग की जमीन पर कब्जा कर रहे हैं। पिछले दो वर्षो में आरे के जंगल में तेजी से भूमाफियाओं ने कब्जा कर अवैध रुप में झोपड़ियों का निर्माण किया है। इसको लेकर स्थानीय लोगों ने आरे प्रशासन से शिकायत भी की है। इसके अलावा इस मामले को कोर्ट के संज्ञान में भी लाया गया है। कोर्ट ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच के आदेश दिए हैं। इस मामले की जांच के लिए एक कमिटी बनाई गई है। यह कमिटी जांच करके १५ दिनों में रिपोर्ट सौंपने वाली है।

अन्य समाचार