मुख्यपृष्ठसमाचारअवैध शराब विक्रेताओं की कसेगी नकेल!.... एक्साइज विभाग को मिले ५९ नए वाहन

अवैध शराब विक्रेताओं की कसेगी नकेल!…. एक्साइज विभाग को मिले ५९ नए वाहन

•  उपमुख्यमंत्री के हाथों हुआ वितरण
सामना संवाददाता / मुंबई
राज्य की महाविकास आघाड़ी सरकार ने अवैध शराब बेचनेवालों की नकेल कसने का निर्णय लिया है। इसी के तहत राज्य सरकार ने राज्य उत्पादन शुल्क विभाग को ५९ नई गाड़ियां कल दी गईं। इन गाड़ियों का उपमुख्यमंत्री अजीत पवार के हाथों वितरण किया गया। इस अवसर पर उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने कहा कि इससे देश व राज्य के राजस्व में भारी बढ़ोतरी होगी। इन गाड़ियों से विभाग को सक्षम करने, अपराध को रोकने और राजस्व के उद्देश्य को पूरा करने में मदद मिलेगी, ऐसा विश्वास भी अजीत पवार ने इस अवसर पर व्यक्त किया। विधानभवन के सामने पार्किंग में राज्य उत्पादन शुल्क विभाग के नए वाहनों का वितरण उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने फीता काटकर और वाहनों को हरी झंडी दिखाकर किया। इस अवसर पर राज्य उत्पादन शुल्क विभाग की प्रधान सचिव वल्सा-नायर सिंह, आयुक्त कांतिलाल उमाप, राज्य उत्पादन शुल्क विभाग के सहआयुक्त विश्वनाथ इदिसे, संचालक श्रीमती उषा वर्मा, उपआयुक्त सुनील चव्हाण, संबंधित विभाग के वरिष्ठ अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे। इस अवसर पर महिंद्रा एंड महिंद्रा, कंपनी के अधिकारी गुरुप्रीत सिंग रंधावा, मारुति सुजुकी के अधिकारी जावेद सय्यद ने प्रतिनिधि के रूप में उपमुख्यमंत्री अजीत पवार को चाबी दी। इस नए ५९ वाहन महिंद्रा एंड महिंद्रा कंपनी स्कॉर्पियो मॉडल की ५१ स्कॉर्पियो व मारुति सुजुकी कंपनी की इर्टिगा ८ कारों का समावेश है। इस विभाग के लिए कुल २७१ वाहन मंजूर किए गए है।

अन्य समाचार