मुख्यपृष्ठसमाचारएमएमआर-एसआरए कार्यालय में महत्वपूर्ण पद हैं रिक्त!

एमएमआर-एसआरए कार्यालय में महत्वपूर्ण पद हैं रिक्त!

-नागरिकों को हो रही परेशानी, अधिकारियों की नियुक्ति की उठी मांग

सामना संवाददाता / ठाणे

मुंबई महानगर क्षेत्र स्लम पुनर्वास प्राधिकरण (एसआरए) का एक विशाल कार्यालय यहां के ठाणे के खेवरा सर्कल क्षेत्र में मनपा की तीन मंजिली इमारत में स्थापित किया गया है। मुंबई शहर के अलावा, शेष क्षेत्र में झोपड़ी धारकों के पुनर्वास प्रस्तावों को मंजूरी देने के लिए १२ अधिकारियों को नियुक्त किया गया। हालांकि, ये पद रिक्त हैं। इसके चलते यहां के प्रस्तावों की मंजूरी के लिए मुंबई कार्यालय के चक्कर लगाना पड़ता है। इसको ध्यान में रखते हुए अब इस विभाग ने सरकार से कार्यालय में निर्धारित १२ पदों पर अधिकारियों की नियुक्ति करने का अनुरोध किया है।
बता दें कि पिछले कुछ वर्षों में मुंबई और ठाणे शहरों में बड़े पैमाने पर शहरीकरण हुआ है, वहीं इन शहरों के विभिन्न हिस्सों में झुग्गियां बसी हैं। स्लम पुनर्वास प्राधिकरण इस शहर में झुग्गीवासियों के पुनर्वास के लिए योजना प्राधिकरण के रूप में कार्य करता है। इस प्राधिकरण के कार्यालय मुंबई और ठाणे शहरों में हैं। इस कार्यालय से झोपड़पट्टी पुनर्वास परियोजनाओं को मंजूरी दी जाती है। ठाणे शहर में कार्यालय का विस्तार मुंबई महानगरीय क्षेत्र को कवर करने के लिए किया गया था। ठाणे स्लम पुनर्वास प्राधिकरण का कार्यालय ठाणे के खेवरा सर्कल क्षेत्र में मनपा की तीन मंजिली इमारत की दूसरी मंजिल पर था। इस कार्यालय के विस्तार के बाद प्राधिकरण ने इमारत की शेष दो मंजिलें किराए पर ले लीं और वहां एक विशाल कार्यालय स्थापित किया। वर्तमान में इस कार्यालय में अभियांत्रिकी विभाग, सक्षम प्राधिकारी विभाग एवं सहकारिता विभाग ही कार्यरत हैं।
इस कार्यालय से ठाणे, कल्याण-डोंबिवली, भिवंडी, उल्हासनगर, अंबरनाथ, बदलापुर, रायगढ़ और पालघर क्षेत्रों में झोपड़पट्टियों का पुनर्वास परियोजनाओं को मंजूरी दी जाएगी। इसके लिए यहां आवश्यक १२ पदों पर अधिकारियों की नियुक्ति नहीं की गई है। इन पदों का प्रभार मुंबई कार्यालय के अधिकारियों को दिया गया है। इसके कारण ठाणे कार्यालय के अधिकारियों को झोपड़पट्टी पुनर्वास प्रस्तावों को मंजूरी देने के लिए मुंबई कार्यालय जाना पड़ता है। पहले ठाणे शहर से प्रस्ताव मंजूरी के लिए इस कार्यालय में आते थे, लेकिन अब मुंबई महानगर में प्रस्ताव मंजूरी के लिए आ रहे हैं। सूत्रों ने बताया कि कार्यालय में बढ़ते काम को ध्यान में रखते हुए प्राधिकरण ने सरकार से रिक्त पदों पर नियुक्ति का अनुरोध किया है।

अन्य समाचार