मुख्यपृष्ठअपराधनालासोपारा में ठांय- ठांय! कबाड़ी पर चली गोलियां...

नालासोपारा में ठांय- ठांय! कबाड़ी पर चली गोलियां…

  • लूट के इरादे से आए थे बदमाश 
  • चार आरोपी हुए गिरफ्तार

गोपाल गुप्ता / मुंबई
कल नालासोपारा सुबह-सुबह ठायं-ठायं से गूंज उठा। काम पर निकले एक कबाड़ी पर मंगलवार सुबह दो बाइक सवार अपराधी दिनदहाड़े तीन गोली फायर कर फरार हो गए। घटना में कबाड़ी जख्मी हो गया। उसे उपचार के लिए निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। अपराधी लूट के इरादे से घटना को अंजाम दिए हैं। पुलिस के मुताबिक जख्मी कबाड़ी परिचित कबा़ड़ियों के पैसे जमा करने का काम करता था। पुलिस ने सीसीटीवी के आधार पर इस घटना में चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है।
पेल्हार पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक विलास चौगुले ने बताया कि जख्मी ४२ वर्षीय अजय प्रजापति नालासोपारा-पूर्व संतोष भुवन का निवासी है। नवजीवन में कबाड़ीवाले के पास काम करता है। इसके अलावा कबाड़ बेचनेवाले के नगदी रुपए को बैंक में पैसा जमा करने का काम करता है। पीड़ित प्रतिदिन लाखों रुपए लेकर बैंक में जमा कराने जाता था। मंगलवार की सुबह करीब साढ़े ९ बजे जख्मी ५० हजार रुपए लेकर ऑटोरिक्शा से नालासोपारा जा रहा था। इसी दौरान धानिव बाग नाका के पास दो बाइक सवार रिक्शे के सामने आ गए और अजय पर पिस्तौल तानकर बैग लूटने की वारदात को अंजाम दिया।
लुटेरों ने किए तीन फायर
पुलिस के मुताबिक पिस्तौल देखने के बाद भी जख्मी अजय रुपयों से भरा बैग देने को तैयार नहीं था। इसके बाद बदमाशों ने उसे डराने के लिए एक गोली फायर कर दी। इसके बाद जख्मी रिक्शा से बाहर निकलकर भागने लगा। इस दौरान बदमाशों ने उसके ऊपर दो और फायर कर दिए। इस घटना में जख्मी अजय को दो गोली लग गई। हालांकि गोली की आवाज सुनकर राहगीरों ने लुटेरों को पकड़ने की कोशिश की लेकिन आरोपी फरार हो गए।
वसई में पकड़े गए आरोपी
पुलिस ने बताया कि इस घटना में सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों की शिनाख्त हुई है। ये आरोपी कबाड़ी और इलेक्ट्रिशियन का काम करते हैं। घटना को अंजाम देने के लिए आरोपियों ने तीन दिन तक अजय की रेकी की थी। इसके बाद मंगलवार वारदात को अंजाम दिया। पुलिस से बचने के लिए आरोपी शहर छोड़कर भागने की फिराक में थे लेकिन पुलिस ने नवजीवन और वसई इलाके से गिरफ्तार कर लिया। फिलहाल जांच जारी है।

अन्य समाचार