मुख्यपृष्ठनए समाचारछुट्टियों में लगातार पीएंगे शराब, ...तो सेहत कर लेंगे खराब ... नए...

छुट्टियों में लगातार पीएंगे शराब, …तो सेहत कर लेंगे खराब … नए साल में संभलकर छलकाएं जाम

 पैदा कर सकता है दिल को खतरा  
चिकित्सकों ने दी चेतावनी
धीरेंद्र उपाध्याय / मुंबई
क्रिसमस का सीजन है। उसके बाद जल्द ही नया साल भी आनेवाला है, ऊपर से सर्दियों का मौसम भी जारी है। इन दिनों खूब पार्टियां होती हैं और जश्न भी मनाया जाता है, जिसमें खूब जाम छलकाए जाते हैं। वैसे भी सर्दियों में शराब का सेवन बढ़ जाता है। इसमें कोई शक नहीं है कि शराब का अत्यधिक सेवन सेहत को गंभीर नुकसान पहुंचाता है। लेकिन उससे भी खतरनाक बात यह है कि छुट्टियों में लगातार शराब पीने से सेहत खराब होने का ज्यादा डर है। चिकित्सकों ने चेतावनी दी है कि यह दिल के लिए भी खतरा पैदा कर सकता है। ऐसे में नए साल का जश्न मनाते समय बहुत संभलकर जाम छलकाएं, अन्यथा इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं।
हर कोई बेहद उत्सुकता के साथ नए साल का इंतजार कर रहा है। आखिर हो भी क्यों न, नया साल अपने साथ नए वादे, नई उम्मीद और नई चेतना लेकर जो आता है। ऐसे मौकों पर जब शराब पीने के फायदे और नुकसान की बात आती है तो इस बारे में उपलब्ध ऑनलाइन जानकारियां भ्रामक हो सकती हैं। हालांकि, यह याद रखना जरूरी है कि शराब की लत लग सकती है, जो बेहद टॉक्सिक होता है। फोर्टिस अस्पताल में इंटरवेंशनल कार्डियोलॉजी के सीनियर कंसल्टेंट डॉ. जाकिया खान का कहना है कि हर किसी को यह बात पता है कि लगातार शराब पीने से लीवर पर उसका प्रभाव पड़ता है। कभी-कभी इसकी वजह से लीवर प्रत्यारोपण ही एकमात्र विकल्प बचता है। हालांकि, नियमित शराब दिल के लिए भी नुकसानदायक है। अत्यधिक मात्रा में शराब पीने से हाई ब्लड प्रेशर, हार्ट फेलियर या फिर स्ट्रोक का खतरा पैदा कर सकता है, जिसे कार्डियोमायोपैथी कहते हैं। इसमें हृदय की मांसपेशियों को नुकसान पहुंचता है। इसके साथ ही शराब का लगातार सेवन धड़कन की गति को भी प्रभावित कर सकता है, जिससे अरिदमिया या फिर अनियमित धड़कनों का खतरा पैदा हो सकता है।
रेड वाइन में होती है सेहतमंद एंटीऑक्सीडेंट
डॉ. जाकिया खान ने कहा कि रेड वाइन में सेहतमंद एंटीऑक्सीडेंट की अधिक मात्रा की वजह से यह फायदेमंद होती है, जो किसी अन्य एल्कोहोलिक बेवरेज की तुलना में इसके ज्यादा लाभ हैं। इस तथ्य को छोड़ दिया जाए तो ज्यादा मात्रा में रेड वाइन पीने की भी सलाह नहीं दी जाती, क्योंकि शराब वैâसी भी क्यों न हो, लगातार इसका सेवन सीधे तौर पर कई सारी स्वास्थ्य समस्याएं पैदा करता है। इसके अलावा हृदय रोगों और अन्य बीमारियों से जूझ रहे लोगों को शराब का सेवन करने से बचना चाहिए। इसकी थोड़ी भी मात्रा तुलनात्मक रूप से स्ट्रोक तथा ब्लड प्रेशर के खतरे को बढ़ा देती है।
नए साल में इन बातों का रखें ख्याल
डॉ. खान ने कहा कि शराब पीने से पहले खाना जरूर खाएं। खाली पेट शराब पीने से बचें, क्योंकि इससे टॉक्सिन का असर ज्यादा तेज गति से हो सकता है। नमी बनाए रखें और पर्याप्त पानी पीएं। हर स्टैंडर्ड ड्रिंक के लिए एक ग्लास पानी सबसे सही है। शराब धीमा गति से पीएं। ऐसा कहा जाता है कि इंसानी लीवर हर एक घंटे में लगभग एक आउंस (३० एमएल) शराब को प्रोसेस कर सकता है।

अन्य समाचार