मुख्यपृष्ठनए समाचारमनपा स्कूलों की बढ़ी डिमांड! ...बढ़ाई गईं एक हजार सीटें

मनपा स्कूलों की बढ़ी डिमांड! …बढ़ाई गईं एक हजार सीटें

• प्रवेश के लिए सिफारिशों की भरमार

सामना संवाददाता / मुंबई
महानगर में शिक्षा के स्तर को बढ़ाने के लिए मनपा स्कूलों में छात्रों को सीबीएसई बोर्ड सहित अंतरराष्ट्रीय बोर्ड की शिक्षा देने की शुरुआत पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे की अगुवाई में शुरू की गई है। पिछले दो वर्षों में मनपा के इन स्कूलों की डिमांड खूब बढ़ गई है, जिसे देखते हुए मनपा को सीटों की संख्या बढ़ानी पड़ी है। इस वर्ष केजी के लिए प्रत्येक स्कूल में दो कक्षाएं मतलब कुल ९७० सीटें बढ़ाई गई हैं। यह जानकारी मनपा शिक्षा विभाग के संयुक्त आयुक्त अजीत कुम्भार ने दी। मनपा के पब्लिक स्कूलों में अपने बच्चों को शिक्षा दिलाने की चाह रखन्âेवालों के लिए यह एक तोहफा माना जाता है।
अजीत कुम्भार ने कहा कि मनपा के इंग्लिश मीडियम के सीबीएसई बोर्ड के स्कूलों की डिमांड बढ़ी है। बड़ी संख्या में अभिभावक अपने बच्चों को यहां प्रवेश दिला रहे हैं। इतना ही नहीं पहली बार ऐसा हुआ ही जब मनपा स्कूलों में प्रवेश के लिए अभिभावक राज्य के मंत्री से सिफारिश करवा रहे हैं। उन्होंने कहा कि स्कूलों में प्रवेश के लिए अभिभावकों की कतार और सीटों की बढ़ती मांग को देखते हुए इस वर्ष ९७० सीटें बढ़ाई गई हैं। इन सीटों पर प्रवेश भी लगभग आरक्षित कर दिए गए हैं।
बता दें कि मुंबई में पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे की अगुवाई में मनपा ने अपने स्कूलों में शिक्षा गुणवत्ता को बेहतर बनाने के लिए तमाम योजनाएं शुरू की हैं, जिसके तहत पब्लिक स्कूलों की शुरुआत की गई है। इंग्लिश मीडियम और सीबीएसई बोर्ड के पब्लिक स्कूल शुरू किए गए हैं। ११ सीबीएसई बोर्ड, एक आईबी बोर्ड, एक आईसीएसई बोर्ड और एक वैंâब्र्रिज बोर्ड के स्कूल की शुरुआत की गई है। अब मनपा स्कूलों में प्रवेश के लिए लंबी कतारें लगने लगी हैं। मनपा की नई शिक्षा नीति के तहत बेहतर शिक्षा और कुशल प्रबंधन के चलते मनपा पब्लिक स्कूल इन दिनों अभिभावकों की खास पसंद बन रहे हैं। बड़ी संख्या में यहां अभिभावकों के आवेदन आ रहे हैं।

यहां बढ़ी हैं सीटें
मनपा के जिन १२ स्कूलों में सीबीएसई और आईसीएसई स्कूलों में सीटें बढ़ाई गई हैं, उनमें चिकुवाड़ी, जनकल्याण नगर, प्रतीक्षा नगर, पूनम नगर, मीठा नगर, हरियाली नगर, राजावाड़ी, अजीजबाग, भवानी नगर, तुंगा विलेज, काणे नगर और वूलन मिल का समावेश है।

२६ हजार से अधिक आवेदन
शिक्षा विभाग के एक अधिकारी के अनुसार इन स्कूलों में एक सीट के लिए ८ से अधिक विद्यार्थियों के आवेदन मिल रहे रहे हैं। इन स्कूलों की साढ़े चार हजार सीटों के लिए २६ हजार से अधिक विद्यार्थियों के आवेदन आए हैं। अभिभावकों ने उम्मीद से अधिक दिलचस्पी दिखाई है।

अन्य समाचार